agriculture gk in hindi Archives | Hindigk50k

आंवला की खेती Amla Farming

आंवला की खेती Amla Farming Hello readers,  Agriculture Gk in hindi If you are doing preparation for HSSC, SSC Exams, come to us regularly. Agriculture Gk in hindi for HSSC exams like SSC CGL, SSC CHSL haryana police, gram sachiv, clerk, canal patwari, HPSC. haryana general knowledge and current affairs .  haryana Samanyagyan

आंवला की खेती

आंवला की खेती Amla Farming

सामान्य जानकारी: आँवला युफ़ोरबिएसी परिवार का पौधा है। यह भारतीय मूल का एक महत्वपूर्ण फल है। भारत केविभिन्न क्षेत्रों में इसे विभिन्न नामों, जैसे, हिंदी में ‘आँवला’, संस्कृत में ‘धात्री’ या ‘आमलकी’, बंगाली एवं उड़ीया में, ‘अमला’ या ‘आमलकी’, तमिल एवं मलयालम में, ‘नेल्ली’, तेलगु में ‘अमलाकामू, गुरुमुखी में, ‘अमोलफल’, तथा अंग्रेजी में ‘ऐम्बलिक’, ‘माइरोबालान’ या इंडियन गूजबेरी के नाम से जाना जाता है। अपने अद्वितीय औषधीय एवं पोषक गुणों के कारण, भारतीय पौराणिक साहित्य जैसे वेद, स्कन्दपुराण, शिवपुराण, पदमपुराण, रामायण, कादम्बरी, चरक संहिता, सुश्रुत संहिता में इसका वर्णन मिलता है। महर्षि चरक ने इस फल को जीवन दात्री अथवा अमृतफल के समान लाभकारी माना है। अतः इसे अमृत फल तथा कल्प वृक्ष के नाम से भी जाना जाता है। आँवले की विशेषतायें हैं, प्रति इकाई उच्च उत्पादकता (15-20 टन/हेक्टेयर), विभिन्न प्रकार की भूमि (ऊसर, बीहड़, खादर, शुष्क, अर्धशुष्क, कांडी, घाड़) हेतु उपयुक्तता, पोषण एवं औषधीय (विटामिन सी, खनिज, फिनॉल, टैनिन) गुणों से भरपूर तथा विभिन्न रूपों में (खाद्य, प्रसाधन, आयुर्वेदिक) उपयोग के कारण आँवला 21वी सदी का प्रमुख फल हो सकता है। धर्म परायण हिन्दू इसके फलों एवं वृक्ष को अत्यंत पवित्र मानते हैं तथा इसका पौराणिक महत्व भी है। ऐसा कहा जाता है कि यदि कार्तिक मास में इसके वृक्ष के नीचे बैठ कर विष्णु की पूजा की जाये तो स्वर्ग की प्राप्ति होती है। यदि तुलसी का पौधा नहीं मिले तो भगवान विष्णु की पूजा आँवले के वृक्ष के नीचे बैठ कर की जा सकती है। हिन्दू धर्म में ऐसी मान्यता है कि आँवले के वृक्ष के नीचे पिण्ड दान करने से पितरों को मुक्ति प्राप्त होती है। हिन्दू धर्म के अनुसार कार्तिक मास में कम से कम एक दिन आँवले के वृक्ष के नीचे भोजन करना अत्यंत शुभ माना जाता है, जब इसके फल परिपक्व होते है। हिन्दू धर्म के अनुसार आँवले के फल का लगातार 40 दिनों तक सेवन करते रहने वाले व्यक्ति में नई शारीरिक स्फूर्ति आती है तथा कायाकल्प हो जाता है।

Anwla Ki Kheti Samanya Jankari युफ़ोरबिएसी Pariwar Ka Paudha Hai Yah Bharateey Mool Ek Mahatvapurnn Fal Bhaarat केविभिन्न Area Me Ise Vibhinn Namo Jaise Hindi Sanskrit धात्री Ya आमलकी Bangali Aivam उड़ीया अमला Tamil Malayalam नेल्ली तेलगु अमलाकामू Gurumukhi अमोलफल Tatha Angreji ऐम्बलिक माइरोबालान Indian गूजबेरी Ke Naam Se Jana Jata Apne Advitiya Aushadhiy Poshak Gunnon Karan Paurannik Sahitya Ved स्कन्दपुराण शिवपुराण पदमपुराण Ramayann

 

>>> आँवला क्षेत्र एवं वितरण

आँवला क्षेत्र एवं वितरण
आँवले के प्राकृतिक रूप से उगे वृक्ष भारत, श्रीलंका, क्यूबा, पोर्ट रिको, हवाई, फ्लोरिडा, ईरान, इराक, जावा, ट्रिनिडाड, पाकिस्तान, मलाया, चीन, और पनामा में पाये जाते हैं। परन्तु इसकी खेती भारतवर्ष के उत्तर प्रदेश प्रांत में ज्यादा प्रचलित है। आज कल आँवले का सघन वृक्षारोपण उत्तर प्रदेश के लवणीय एवं क्षारीय मृदाओं वाले बीहड़ एवं खादर वाले जिलों, जैसे आगरा, मथुरा, इटावा एवं फतेहपुर एवं बुन्देलखण्ड के अर्ध शुष्क क्षेत्रों में सफलतापूर्वक किया जा रहा है। इसके अलावा आँवले के क्षेत्र अन्य प्रदेशों जैसे, महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान, आंध्रप्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु के अर्ध शुष्क क्षेत्रों में, हरियाणा के अरावली क्षेत्रों में, पंजाब, उत्तरांचल एवं हिमाचल में तेजी से बढ़ रहे हैं। एक नये आंकड़े के अनुसार भारतवर्ष में आँवले का क्षेत्रफल लगभग 50,000 हेक्टेयर तथा कुल उत्पादन लगभग 1.5 लाख टन आँका गया है। झारखंड राज्य के शुष्क एवं अर्धशुष्क जिलों जैसे – लातेहार, डाल्टनगंज, चतरा, कोडरमा, गिरिडीह, देवधर आदि में आँवला उत्पादन की अपार संभावनाएं मौजूद हैं।

Anwla Shetra Aivam Vitarann Anwle Ke Prakritik Roop Se Uge Vriksh Bhaarat ShriLanka Cuba Port रिको Hawai Florida Eeran Iraq JAVA ट्रिनिडाड Pakistan Malaya China Aur Panama Me Paye Jate Hain Parantu Iski Kheti BhaaratVarsh Uttar Pradesh Praant Jyada Prachalit Hai Aaj Kal Ka Saghan VrikshaRopann Lavanniya Shariya Mridao Wale Beehad Khadar Zilon Jaise Agra Mathura Itawa Fatehpur Bundelkhand Ardh Shushk Area SafalTapoorvak Kiya Jaa Rah

>>> आँवले का उपयोग

आँवले का उपयोग
आँवले के पौधों के प्रत्येक भाग का आर्थिक महत्व है। इसके फलों में विटामिन ‘सी’ की अत्यधिक मात्रा पायी जाती है। इसके अतिरिक्त इसके फल लवण, कार्बोहाइड्रेट, फास्फोरस, कैल्शियम, लोहा, रेशा एवं अन्य विटामिनों के भी धनी होते हैं। इसमें पानी 81.2%, प्रोटीन 0.50%, वसा 0.10%, रेशा 3.40%, कार्बोहाइड्रेट 14.00%, कैल्शियम 0.05%, फोस्फोरस 0.02%, लोहा 1.20 (मिली ग्रा./100 ग्रा.), विटामिन ‘सी’ 400-1300 (मिली ग्रा./100 ग्रा.), विटामिन ‘बी’ 30.00 (माइक्रो ग्रा./100 ग्रा.) पाये जाते है। भारत में औषधीय गुणों से युक्त फलों में आँवले का अत्यंत महत्व है। शायद यह फल ही एक ऐसा फल है जो आयुर्वेदिक औषधि के रूप में पूर्ण स्वास्थ्य के लिए प्रयुक्त होता है। हिन्दू शास्त्र के अनुसार ऐसा कहा जाता है कि तुलसी एवं आँवले के फलों से सिक्त जल से स्नान करना गंगा जल से स्नान करने के तुल्य है।
इसका फल तीक्ष्ण शीतलता दायक एवं मूत्रक और मृदुरेचक होता है। एक चम्मच आँवले के रस को यदि शहद के साथ मिला कर सेवन किया जाय तो इससे कई प्रकार के विकार जैसे क्षय रोग, दमा, खून का बहना, स्कर्वी, मधुमेह, खून की कमी, स्मरण शक्ति की दुर्बलता, कैंसर अवसाद एवं अन्य मस्तिष्क विकार एन्फ़्जलुएन्जा, ठंडक, समय से पहले बुढ़ापा एवं बालों का झड़ना एवं सफेद होने से बचा जा सकता है। प्राय: ऐसा देखा गया है कि यदि एक चम्मच ताजे आँवले का रस, एक कप करेले के रस में मिश्रित करके दो महीने तक प्राय: काल सेवन किया जाय तो प्राकृतिक इन्सुलिन का श्राव बढ़ जाता है। इस प्रकार यह मधुमेह रोग में रक्त मधु को नियंत्रित करके शरीर को स्वस्थ करता है। साथ ही रक्त की कमी, सामान्य दुर्बलता तथा अन्य कई परेशानियों से मुक्ति दिलाता है। इसका प्रतिदिन प्रात: सेवन करने से कुछ ही दिनों में शरीर में नई स्फूर्ति आती है। यदि ताजे फल प्राप्त न हों तो इसके सूखे चूर्ण को शहद के साथ मिश्रित करके सेवन किया जा सकता है। त्रिफला, च्यवनप्राश, अमृतकलश ख्याति प्राप्त स्वदेशी आयुर्वेदिक औषधियाँ हैं, जो मुख्यत: आँवले के फलों से बनायी जाती हैं। आँवला के इन्हीं गुणों के कारण इसे ‘रसायन’ एवं ‘मेखा रसायन’ (बुद्धि का विकास करने वाला) की श्रेणी में रखा गया है। आँवले के फलों का प्रयोग लिखने की स्याही एवं बाल रंगने के द्रव्य में भी किया जाता है। इसकी पत्तियों को पानी में उबालने के पश्चात उस पानी से कुल्ला करने पर मुँह के छाले ठीक हो जाते हैं। ऐसा इसकी पत्तियों में विद्यमान टैनिन एवं फिनोल की अधिकता के कारण होता है। यही नहीं, आँवले के फल को यदि खाया जाय तो वह मृदुरेंचक (पेट साफ़) का कार्य करता है एवं इसकी जड़ का सेवन पीलिया रोग को दूर करने में सहायक होता है। हिन्दू पौराणिक साहित्य में आँवले एवं तुलसी की लकड़ी की माला पहनना काफी शुभ माना गया है। इस प्रकार आँवला की लकड़ी भी उपयोगी है।

Anwle Ka Upyog Ke Paudhon Pratyek Bhag Aarthik Mahatva Hai Iske Falon Me Vitamin Si Ki Atyadhik Matra Payi Jati Atirikt Fal Lawan Carbohydrate Phoshphorus Calcium Loha Resha Aivam Anya विटामिनों Bhi Dhani Hote Hain Isme Pani 81 20th Protein 0 50th Vasa 100th 3 40th 14 000 050 फोस्फोरस 02 1 20 Mili ग्रा 100 400 1300 B 30 00 Micro Paye Jate Bhaarat Aushadhiy Gunnon Se Yukt Atyant Shayad Yah Hee Ek Aisa Jo ayurvedic Ausha

>>> आँवले की खेती के लिए जलवायु

आँवले की खेती के लिए जलवायु
आँवला एक शुष्क उपोष्ण (जहाँ जाड़ा एवं गर्मी स्पष्ट रूप से पड़ती है) क्षेत्र का पौधा है परन्तु इसकी खेती उष्ण जलवायु में भी सफलतापूर्वक की जा सकती है। भारत में इसकी खेती समुद्र तटीय क्षेत्रों से 1800 मीटर ऊँचाई वाले क्षेत्रों में सफलतापूर्वक की जा सकती है। जाड़े में आँवले के नये बगीचों में पाले का हानिकारक प्रभाव पड़ता है परन्तु एक पूर्ण विकसित आँवले का वृक्ष 0-460 सेंटीग्रेट तापमान तक सहन करने की क्षमता रखता है। गर्म वातावरण, पुष्प कलिकाओं के निकलने हेतु सहायक होता है जबकि जुलाई-अगस्त माह में अधिक आर्द्रता का वातावरण सुसुप्त छोटे फलों की वृद्धि हेतु सहायक होता है। वर्षा ऋतु में शुष्क काल में छोटे फल अधिकता में गिरते हैं तथा नए छोटे फलों के निकलने में देरी होती है।

Anwle Ki Kheti Ke Liye Jalwayu Anwla Ek Shushk Uposhnn Jahan जाड़ा Aivam Garmi Spashta Roop Se Padti Hai Shetra Ka Paudha Parantu Iski Ushnn Me Bhi SafalTapoorvak Jaa Sakti Bhaarat Samudra Tatiya Area 1800 Meter Unchai Wale Jade Naye Bagichon Pale HaniKaarak Prabhav Padta Poorn Viksit Vriksh 0 460 सेंटीग्रेट Tapaman Tak Sahan Karne Shamta Rakhta Garm Watavaran Pushp कलिकाओं Nikalne Hetu Sahayak Hota Jabki July August Month Adh

 

>>> आँवले की खेती के लिए भूमि

आँवले की खेती के लिए भूमि
आँवला एक सहिष्णु फल है और बलुई भूमि से लेकर चिकनी मिट्टी तक में सफलतापूर्वक उगाया जा सकता है। गहरी उर्वर बलुई दोमट मिट्टी इसकी खेती हेतु सर्वोत्तम पायी जाती है। बंजर, कम अम्लीय एवं ऊसर भूमि (पी.एच. मान 6.5-9.5, विनियम शील सोडियम 30-35 प्रतिशत एवं विद्युत् चालकता 9.0 म्होज प्रति सें.मी. तक) में भी इसकी खेती सम्भव है। भारी मृदायें तथा ऐसी मृदायें जिनमें पानी का स्तर काफी ऊँचा हो, इसकी खेती हेतु अनुपयुक्त पायी गई हैं।

 

>>> आँवले की किस्में

पूर्व में आँवला की तीन प्रमुख किस्में यथा बनारसी, फ्रांसिस (हाथी झूल) एवं चकैइया हुआ करती थी। इन किस्मों की अपनी खूबियाँ एवं कमियाँ रही हैं। बनारसी किस्म में फलों का गिरना एवं फलों का कम भंडारण क्षमता, फ्रान्सिस किस्म में यद्यपि बड़े आकार के फल लगते हैं परन्तु उत्तक क्षय रोग अधिक होता है। चकैइया के फलों में अधिक रेशा एवं एकान्तर फलन की समस्या के कारण इन किस्मों के रोपण को प्रोत्साहित नहीं करना चाहिए। पारम्परिक किस्मों की इन सब समस्याओं के निदान हेतु नरेन्द्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय, कुमारगंज, फैजाबाद ने कुछ नयी किस्मों का चयन किया है जिनका संक्षिप्त विवरण निम्न है:

आँवला की किस्म कंचन (एन ए-4)

आँवला की किस्म कंचन (एन ए-4)
यह चकइया किस्म से चयनित किस्म है। इस किस्म में मादा फूलों की संख्या अधिक (4-7 मादा फूल प्रति शाखा) होने के कारण यह अधिक फलत नियमित रूप से देती है। फल मध्यम आकार के गोल एवं हल्के पीले रंग के व अधिक गुदायुक्त होते है। रेशेयुक्त होने के कारण यह किस्म गूदा निकालने हेतु एवं अन्य परिरक्षित पदार्थ बनने हेतु औद्योगिक इकाईयों द्वारा पसंद की जाती है। यह मध्यम समय में परिपक्व होने वाले किस्म हैं (मध्य नवम्बर से मध्य दिसम्बर) तथा महाराष्ट्र एवं गुजरात के शुष्क एवं अर्धशुष्क क्षेत्रों में सफलतापूर्वक उगायी जा रही है।

आँवला की किस्म कृष्णा (एन.ए.-5)

आँवला की किस्म कृष्णा (एन.ए.-5)
यह बनारसी किस्म से चयनित एक अगेती किस्म है जो अक्टूबर से मध्य नवम्बर में पक कर तैयार हो जाती है। इस किस्म के फल बड़े ऊपर से तिकोने, फल की सतह चिकनी, सफेद हरी पीली तथा लाल धब्बेदार होती है। फल का गूदा गुलाबी हरे रंग का, कम रेशायुक्त तथा अत्यधिक कसैला होता है। फल मध्यम भंडारण क्षमता वाले होते हैं। अपेक्षाकृत अधिक मादा फूल आने के कारण, इस किस्म की उत्पादन क्षमता बनारसी किस्म की अपेक्षा अधिक होती है। यह किस्म मुरब्बा, कैन्डी एवं जूस बनाने हेतु अत्यंत उपयुक्त पायी गयी है।

नरेन्द्र आँवला-6

नरेन्द्र आँवला-6
यह चकैइया किस्म से चयनित किस्म है जो मध्यम समय (मध्य नवम्बर से मध्य दिसम्बर) में पक कर तैयार हो जाती है। पेड़ फैलाव लिए अधिक उत्पादन देने वाले होते हैं। (फलों का आकार मध्यम से बड़ा गोल, सतह चिकनी, हरी पीली, चमकदार, आकर्षक) गूदा रेशाहीन एवं मुलायम होता है। यह किस्म मुरब्बा, जैम एवं कैन्डी बनाने हेतु उपयुक्त पायी जाती है।

नरेन्द्र आँवला-7

नरेन्द्र आँवला-7
यह फ्रांसिस (हाथी झूल) किस्म के बीजू पौधों से चयनित किस्म है। यह शीघ्र फलने वाली, नियमित एवं अत्यधिक फलन देने वाली किस्म है। इस किस्म में प्रति शाखा में औसत मादा फूलों की संख्या 9.7 तक पायी जाती है। यह मध्यम समय (मध्य नवम्बर से मध्य दिसम्बर) तक पक कर तैयार हो जाती है। यह किस्म उत्तक क्षय रोग से मुक्त है। फल मध्यम से बड़े आकार, के ऊपर तिकोने, चिकनी सतह तथा हल्के पीले रंग वाले होते हैं। गूदे में रेशे की मात्रा एन ए-6 किस्म से थोड़ी अधिक होती है। इस किस्म की प्रमुख समस्या अधिक फलत के कारण इसकी शाखाओं को टूटना है। अतः फल वृद्धि के समय शाखाओं में सहारा देना उचित होता है यह किस्म च्यवनप्राश, चटनी, अचार, जैम एवं स्क्वैश बनाने हेतु अच्छी पायी गयी है। इस किस्म को राजस्थान, बिहार, मध्य प्रदेश, उत्तरांचल तथा तमिलनाडु के क्षेत्रों में अच्छी तरह अपनाया गया है।

नरेन्द्र आँवला-10

नरेन्द्र आँवला-10
यह किस्म बनारसी किस्म के बीजू पौधों से चयनित अधिक फलन देने वाली किस्म है। फल देखने में आकर्षक, मध्यम से बड़े आकार वाले, चपटे गोल होते हैं। सतह कम चिकनी, हल्के पीले रंग वाली गुलाबी रंग लिए होती है। फलों का गूदा सफेद हरा, रेशे की मात्रा अधिक एवं फिनाल की मात्रा कम होती है। अधिक उत्पादन क्षमता, शीघ्र पकने के कारण एवं सुखाने एवं अचार बनाने हेतु उपयुक्तता के कारण यह व्यवसायिक खेती हेतु उपयुक्त किस्म हैं, परन्तु इस किस्म में एकान्तर फलन की समस्या पायी जाती है।
इन सब किस्मों के अलावा लक्ष्मी-52, किसान चकला, हार्प-5, भवनी सागर आनंद-1, आनंद-2, एवं आनंद-3 किस्में विभिन्न शोध संस्थाओं से विकसित की गयी हैं परन्तु इनकी श्रेष्ठता देश के अन्य भागों में अभी सिद्ध नहीं हो पाई है।

 

Anwle Ki Kismein Poorv Me Anwla Teen Pramukh Yatha Banarasi French Hathi Jhool Aivam चकैइया Hua Karti Thi In Kismon Apni Khoobiyaan Kamiyan Rahi Hain Kism Falon Ka Girna Kam Bhandaran Shamta फ्रान्सिस Yadyapi Bade Akaar Ke Fal Lagte Parantu Uttak Kshay Rog Adhik Hota Hai Resha एकान्तर फलन Samasya Karan Ropann Ko Protsahit Nahi Karna Chahiye Paramparik Sab Samasyaon Nidaan Hetu Narendra Dev Krishi Prodyogik VishwaVidyalaya कुमारगं

लहसुन की खेती से होगी लाखों की इनकम, ऐसे करें तैयारी Garlic Farming

लहसुन की खेती से होगी लाखों की इनकम, ऐसे करें तैयारी Garlic Farming agriculture current affairs 2017-18 pdf download,agriculture current affairs 2017 pdf download,agriculture general knowledge questions and answers pdf in hindi,agriculture current affairs 2016 pdf in hindi,agriculture gk for bank exam,general agriculture notes pdf,agriculture gk in hindi app,agriculture supervisor notes in hindi pdf,agriculture gk for bank exam in hindi,agriculture competitive exam questions and answers,agriculture question bank with answers download,agriculture gk app,agriculture question for bank exam,agriculture gk in hindi,agriculture current affairs 2016 pdf,agriculture quiz pdf

लहसुन की खेती से होगी लाखों की इनकम, ऐसे करें तैयारी Garlic Farming

लहसुन की विभिन्न किस्में

लहसुन की विभिन्न किस्में

इन दिनों लहसुन की जी-1 और जी-17 प्रजाति प्रमुख हैं। जी-17 का प्रयोग ज्यादातर हरियाणा और उत्तर प्रदेश के किसान कर रहे हैं। यह दोनों प्रजातियां ही 160 से 180 दिनों में पककर तैयार हो जाती हैं। इसके बाद अप्रैल-मई महीने में इसकी खुदाई होती है। एक हेक्टेयर में लगभग 8 से 9 टन पैदावार आसानी से हो जाती है।इसके इलावा प्रमुख किस्मे निचे दी हुई है

टाइप 56-4:लहसुन की इस किस्म का विकास पंजाब कृषि विश्वविद्यालय की ओर से किया गया है। इसमें लहसुन की गांठे छोटी होती हैं और सफेद होती हैं। प्रत्येक गांठ में 25 से 34 पुत्तियां होती हैं। इस किस्म से किसान को प्रति हेक्टेयर 15 से 20 टन तक उपज मिलती है।

आईसी 49381:इस किस्म का विकास भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान की ओर से किया गया है। इस किस्म से लहसुन की फसल 160 से 180 दिनों में तैयार हो जाती है। इस किस्म से किसानों को अधिक उपज मिलती है।

सोलन:लहसुन की इस किस्म का विकास हिमाचल प्रदेश कृषि विश्वविद्यालय की ओर से किया गया है। इस किस्म में पौधों की पत्तियां काफी चौड़ी व लंबी होती हैं और रंग गहरा होता है। इसमें प्रत्येक गांठ में चार ही पुत्तियां होती हैं और काफी मोटी होती हैं। अन्य किस्मों की तुलना में यह अधिक उपज देने वाली किस्म है।

एग्री फाउंड व्हाईट (41 जी) :लहसुन की इस किस्म में भी फसल 150 से 160 दिनों में तैयार हो जाती है। इस किस्म से लहसुन की उपज 130 से 140 क्विंटल प्रति हेक्टेयर होती है। यह किस्म गुजरात, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक आदि प्रदेशों के लिए अखिल भारतीय समन्वित सब्जी सुधार परियोजना के द्वारा संस्तुति की जा चुकी है।

यमुना (-1 जी) सफेद: लहसुन की यह किस्म संपूर्ण भारत में उगाने के लिए अखिल भारतीय सब्जी सुधार परियोजना के द्वारा संस्तुति की जा चुकी है। इस किस्म में फसल से 150 से 160 दिनों में तैयार हो जाती है और प्रति हेक्टेयर उपज 150 से 175 क्विंटल होती है।

यमुना सफेद 2 (जी 50) : यह किस्म मध्य प्रदेश के लिए उत्तम पाई जाती है। इस किस्म में 160 से 170 दिन फसल तैयार हो जाती है और प्रति हेक्टेयर उपज 150 से 155 क्विंटल तक होती है। यह किस्म बैंगनी धब्बा और झुलसा रोग के प्रति सहनशील होती है।

जी 282:इस किस्म में शल्क कंद सफेद और बड़े आकार के होते हैं। इसके साथ ही 140 से 150 दिनों में फसल तैयार हो जाती है। इस किस्म में किसान को 175 से 200 क्विंटल प्रति हेक्टेयर उपज मिल जाती है।

आईसी 42891:लहसुन की इस किस्म का विकास भारतीय कृषि अनुसन्धान संस्थान, नई दिल्ली की ओर से किया गया है। यह किस्म किसानों को अधिक उपज देती है और फसल 160-180 दिन में तैयार हो जाती है।

मिट्टी और जलवायु

मिट्टी और जलवायु

जैसा कि आपको पहले बताया जा चुका है कि लहसुन की खेती के लिए मध्यम ठंडी जलवायु उपयुक्त होती है। इसके साथ ही दोमट मिट्टी, जिसमें जैविक पदार्थों की मात्रा अधिक हो, लहसुन की खेती के लिए सबसे अच्छी है।

खेती की तैयारी

खेती की तैयारी

खेत में दो या तीन गहरी जुताई करें। इसके बाद खेत को समतल कर क्यारियां और सिंचाई की नालियां बना लें। बता दें कि लहसुन की अधिक उपज के लिए डेढ़ से दो क्विंटल स्वस्थ कलियां प्रति एकड़ लगती हैं।

ऐसे करें बुवाई और सिंचाई

ऐसे करें बुवाई और सिंचाई

अधिक उपज के लिए किसानों को बुवाई के लिए डबलिंग विधि का उपयोग करना चाहिए। क्यारी में कतारों की दूरी 15 सेंटीमीटर तक होनी चाहिए। वहीं, दो पौधों के बीच की दूरी 7.5 सेंटीमीटर होनी चाहिए। वहीं किसानों को बोने की गहराई 5 सेंटीमीटर तक रखनी चाहिए। जबकि सिंचाई के लिए लहसुन की गांठों के अच्छे विकास के लिए 10 से 15 दिनों का अंतर होना चाहिए।

कितना आता है खर्च

कितना आता है खर्च

एक हेक्टेयर में लगता है 12 हजार रुपए का बीज लहसुन की खेती के लिए नवंबर महीना मुफीद रहता है। इसकी खेती भारत के लगभग हर हिस्से में की जाती है।लेकिन, इसके लिए उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, पंजाब और मध्य प्रदेश का मौसम बहुत ही उपयुक्त माना जाता है। एक एकड़ खेती में लगभग 5 हजार रुपए का बीज (लहसुन की गांठ) लगता है।

जबकि, एक हेक्टेयर को अगर मॉडल मानकर चलें तो 12 हजार से 13 हजार रुपए का बीज पर्याप्त होता है। छह महीने में खाद, पानी, मजदूरी आदि कुल सब मिलाकर 50 से 60 हजार रुपए खर्च आ जाता है।

Lahsun Ki Kheti Se Hogi Lacs Income Aise Karein Taiyari Ko Agar Buisness Mankar Kiya Jaye To Yah AdhikTam return Dene Wala Sabit Ho Sakta Hai Yahi Karan In Dino Yuwaon Ka Rujhaan Bhi Or Raha Bus Jarurat Faslon Ke Sahi Chunav Aaj Isi Tarah Ek Fasal Jankari De Rahe Hain Jiski Aapko Mahaj 6 Mahine Me Karaa Sakti Kisano Liye October Mahina Upyukt Mana Jata Is Mausam Kund Nirmann Behtar Hota Iski Domat Bhumi Achhi Rehti Jitn

मिर्च की फसल की जानकारियां Chilly Farming

मिर्च की फसल की जानकारियां Chilly Farming agriculture current affairs 2017-18 pdf download,agriculture current affairs 2017 pdf download,agriculture general knowledge questions and answers pdf in hindi,agriculture current affairs 2016 pdf in hindi,agriculture gk for bank exam,general agriculture notes pdf,agriculture gk in hindi app,agriculture supervisor notes in hindi pdf,agriculture gk for bank exam in hindi,agriculture competitive exam questions and answers,agriculture question bank with answers download,agriculture gk app,agriculture question for bank exam,agriculture gk in hindi,agriculture current affairs 2016 pdf,agriculture quiz pdf

मिर्च की फसल की जानकारियां Chilly Farming

जलवायु :

मिर्च की खेती के लिये आर्द्र उष्ण जलवायु उपयुक्त होती है। फल परिपक्वता अवस्था में शुष्क जलवायु आवश्यक होती है। ग्रीष्म ऋतु में अधिक तापमान से फल व फूल झड़ते हंै. रात्रि तापमान 16-21डिग्री सेल्सियम फल बनने के लिये अत्यधिक उपयुक्त है।

भूमि :

मिर्च की खेती सभी प्रकार की भूमियों में की जा सकती है। परंतु अच्छे जल निकास वाली एवं कार्बनिक बलुई दोमट, लाल दोमट मिट्टी जिसका पीएच मान 6.0 से 6.7 हो मिर्च की खेती के लिये सबसे उपयुक्त है। वो मिट्टी जिसमें जल निकास व्यवस्था नहीं होती, मिर्च के लिये उपयुक्त नहीं है।
बीज, किस्म एवं बीज दर : संकर किस्मों का 120-150 ग्राम एवं 200-250 ग्राम प्रति एकड़ अच्छी पैदावार देने वाली किस्मों की बीज दर होती है। साथ ही ऐसी किस्मों का चुनाव करना चाहिए जो स्थानीय वातावरण, बाजार एवं उपभोक्ता के अनुसार.
खेत की तैयारी

– उठे हुए शैय्या तकनीक से पौध रोपण करें.
– 5 टन प्रति एकड़ की दर से शैय्या पर सड़ी हुई खाद (गोबर की) डालें.
– आधार उर्वरक के रूप में 250 किग्रा. एसएसपी., 500 कि.ग्रा. नीम खली, 50 कि.ग्रा. मैग्रैशियम सल्फेट एवं 10 कि.ग्रा. सूक्ष्म तत्व को शैय्या में मिलायें
– आधार गोबर खाद व उर्वरक को शैय्या में मिलायें.
– खरपतवार नियंत्रण के लिये 500 मि. ली. बासालीन 200 ली. पानी में घोल बनाकर प्रति एकड़ की दर से शैय्या पर छिड़काव करके मिट्टी में मिलायें.
ड्रिप सिंचाई प्रणाली में पौध रोपण
– अनिश्चित वृद्धि, झाड़ीनुमा सीधे बढऩे वाली किस्मों को 5 फीट की दूरी ड्रिप लाईन पर एकल कतार विधि एवं पौधे से पौधे की दूरी, कतार में 30 से 40 सेमी .रखना चाहिए.
– संकर किस्मों को युगल कतार विधि द्वारा लगाना चाहिए.
जल प्रबंध : यद्यपि मिर्च का मूल/ मुख्य जड़ जमीन में गहराई तक पाया जाता है। परंतु इसकी पोषक तत्व व पानी लेने वाली जड़े ज्यादातर जमीन के ऊपरी एक फीट में रहती है जो पौधे की 70 प्रतिशत जल की जरूरत को पूरा करती है। इसलिए ड्रिप सिस्टम इन जड़ों को हमेशा जीवित रखता है। जिससे पौधे में मिट्टी से पानी व पोषक तत्वों का अवशोषण सरलता से होता है।
नेटाफिम के उच्च एक समान उत्सर्जकता, स्वयं साफ होने एवं लचक समन्वित ड्रिप लाईन मिर्च की खेती के लिये बहुत उपयुक्त है।
आधार खुराक : 200 कि.ग्रा. एसएसपी, 50 कि.ग्रा. डीएपी, 500 कि.ग्रा. नीम खली, 50 कि.ग्रा. मैग्रेशियम सल्फेट, 10 कि.ग्रा. सूक्ष्म पोषक तत्व को जमीन में देना चाहिए.

मिर्च तुड़ाई में सावधानियां

– हरी मिर्च बेचना है तो तोड़ते समय यह सावधानी रखें कि फूलों एवं अविकसित मिर्च के ऊपर प्रतिकूल प्रभाव न पड़े। हरी मिर्च की तुड़ाई 6 से 8 बार औसतन 5 से 6 दिनों के अंतर से करनी पड़ती है।
– ग्रीष्म एवं शीत ऋतु की मिर्च पकने पर सुखाकर बेचते हैं। कभी-कभी अचार वाली जातियों को गीला बेचने हेतु तोड़ा जाता है।
– सामान्यत: पके हुए फल को थोड़े-थोड़े समयान्तराल पर हाथ से तोड़ लिया जाता है। सामान्यत: मिर्च में 3 से 6 तुड़ाई होती है। आमतौर पर मिर्च को प्राय: सूर्य की रोशनी में सुखाते हैं।
– मिर्च को सुखाने के लिये प्रत्येक मौसम में जमीन को समतल करके सुखाने के उपयोग में लाया जाता है।
– स्वच्छ, अच्छी गुणवत्ता वाली मिर्च के लिये पक्के प्लेटफार्म या तिरपाल या प्लास्टिक का उपयोग फलों को सुखाने के लिये किया जाता है।
– तुड़ाई उपरांत मिर्च की फलियों को ढेर के रूप में एक रात के लिये रखते हैं, जिससे आधे पके फल पक जाते हैं और सफेद मिर्च की संख्या कम हो जाती है।
– दूसरे दिन मिर्च को ढेर से उठाकर सुखाने के स्थान पर 2-3 इंच मोटी परत में फैला देते हैं।
– इस तरह दो दिन के बाद, प्रत्येक दिन सुबह मिर्च को उलटने-पलटने से सूर्य का प्रकाश हर पर्त पर समान रूप से पड़ता है।
– सूर्य के प्रकाश में शीघ्र और समान रूप से मिर्च को सुखाने के लिए 10 -25 दिन लगते हैं।
– सौर ऊर्जा से चलने वाली मशीन का उपयोग भी मिर्च को सुखाने के लिये किया जाता है। इससे केवल 10-12 घंटे में मिर्च को सुखाया जा सकता है।
– सौर ऊर्जा द्वारा सुखायी गई मिर्च अच्छे गुणों वाली होती है।

मिर्च की उन्नत खेती

हमारे यहां मिर्च एक नकदी फसल है। इस की व्यावसायिक खेती कर के ज्यादा लाभ कमाया जा सकता ? है। यह हमारे खाने में इस्तेमाल होती है। मिर्च में विटामिन ए और सी पाए जाते हैं और कुछ लवण भी होते हैं। मिर्च का इस्तेमाल अचार, मसालों और सब्जी में भी किया जाता है। मिर्च पर पाले का असर ज्यादा होता है, इसलिए जहां पाला ज्यादा पड़ता ? है उन इलाकों में इस की अगेती फसल लेनी चाहिए. ज्यादा गरमी होने पर फूलों व फलों का झड़ना शुरू हो जाता है। मिर्च की खेती के लिए मिट्टी का पीएच मान 6 से 7.5 के बीच होना अच्छा माना जाता ? है। अच्छी फसल के लिए उपजाऊ दोमट मिट्टी जिस में पानी का अच्छा निकास हो अच्छी मानी जाती है।

उन्नत किस्में

चरपरी मसाले वाली : एनपी 46 ए, पूसा ज्वाला, मथानिया लोंग, पंत सी 1, जी 3, जी 5, हंगेरियन वैक्स (पीले रंग वाली), पूसा सदाबहार, पंत सी 2, जवाहर 218, आरसीएच 1, एक्स 235, एलएसी 206, बीकेए 2, एससीए 235. शिमला मिर्च (सब्जी वाली) : यैलो वंडर, केलीफोर्निया वंडर, बुलनोज व अर्का मोहिनी.

Unnat Kismein Charpari MaSale Wali NP 46 A Pusa Jwala Mathaniya Long Pant Si 1 Ji 3 5 Hungerian Wax Pile Rang Sadabahar 2 Jawahar 218 RCH X 235 LAC 206 BKA SCA Shimla Mirch Sabji यैलो Wonder California BullNose Wa Arka Mohini
नर्सरी तैयार करना
सब से पहले नर्सरी में बीजों की बोआई कर के पौध तैयार की जाती ? है। खरीफ की फसल के लिए मई से जून में व गर्मी की फसल के लिए फरवरी से मार्च में नर्सरी में बीजों की बोआई करें. 1 हेक्टेयर में पौध तैयार करने के लिए 1 से डेढ़ किलोग्राम बीज और संकर बीज 250 ग्राम प्रति हेक्टेयर काफी रहता है। नर्सरी वाली जगह की गहरी जुताई कर के खरपतवार रहित बना कर 1 मीटर चौड़ी, 3 मीटर लंबी और 10 से 15 सेंटीमीटर जमीन से उठी हुई क्यारियां तैयार कर लें. बीजों को बोआई से पहले केप्टान या बाविस्टिन की 2 ग्राम मात्रा से प्रति किलोग्राम बीज की दर से उपचारित करें. पौधशाला में कीड़ों की रोकथाम के लिए 3 ग्राम फोरेट 10 फीसदी कण या 8 ग्राम कार्बोफ्यूरान 3 फीसदी कण प्रति वर्गमीटर के हिसाब से जमीन मिलाएं या मिथाइल डिमेटोन 0.025 फीसदी या एसीफेट 0.02 फीसदी का पौधों पर छिड़काव करें. बीजों की बोआई कतारों में करनी चाहिए. नर्सरी में विषाणु रोगों से बचाव के लिए मिर्च की पौध को सफेद नाइलोन नेट से ढक कर रखें.
Nursery Taiyaar Karna Sab Se Pehle Me Beejon Ki Boai Kar Ke Paudh Jati ? Hai Kharif Fasal Liye May June Wa Garmi February March Karein 1 Hectare Karne Dedh KiloGram Beej Aur Sankar 250 Gram Prati Kafi Rehta Wali Jagah Gahri Jutayi Kharpatwar Rahit Banaa Meter Chaudi 3 Lambi 10 15 Centimeter Jamin Uthi Hui Kyariyan Lein Ko keptaan Ya Bavistine 2 Matra Dar Upcharit PaudhShala Keedon Rokatham Phoret Feesdi Kann 8 Carbofuran V
रोपाई
नर्सरी में बोआई के 4 से 5 हफ्ते बाद पौधे रोपने लायक हो जाते हैं। तब पौधों की रोपाई खेत में करें. गर्मी की फसल में कतार से कतार की दूरी 60 सेंटीमीटर व पौधे से पौधे की दूरी 30 से 45 सेंटीमीटर रखें. खरीफ की फसल के लिए कतार से कतार की दूरी 45 सेंटीमीटर और पौधे से पौधे की दूरी 30 से 45 सेंटीमीटर रखें. रोपाई शाम के समय करें और रोपाई के तुरंत बाद सिंचाई कर दें. पौधों को 40 ग्राम एजोस्पाइरिलम 2 लीटर पानी के घोल में 15 मिनट डुबो कर रोपाई करें.
Ropai Nursery Me Boai Ke 4 Se 5 Hafte Baad Paudhe Ropne layak Ho Jate Hain Tab Paudhon Ki Khet Karein Garmi Fasal Kataar Doori 60 Centimeter Wa 30 45 Rakhein Kharif Liye Aur Sham Samay Turant Sinchai Kar Dein Ko 40 Gram एजोस्पाइरिलम 2 Litre Pani Ghol 15 Minute डुबो
खाद व उर्वरक
खेत की अंतिम जुताई से पहले प्रति हेक्टेयर करीब 150 से 250 क्विंटल अच्छी तरह सड़ी हुई गोबर की खाद खेत में डाल कर अच्छी तरह मिला दें. इस के अलावा मिर्च का अच्छा उत्पादन लेने के लिए 70 किलोग्राम नाइट्रोजन, 48 किलोग्राम फास्फोरस व 50 किलोग्राम पोटाश प्रति हेक्टेयर की जरूरत होती है। नाइट्रोजन की आधी मात्रा रोपाई से पहले जमीन की तैयारी के समय व बची मात्रा आधीआधी कर के 30 व 45 दिनों बाद खेत में छिड़क कर तुरंत सिंचाई कर दें.
Khad Wa Urvarak Khet Ki Antim Jutayi Se Pehle Prati Hectare Karib 150 250 Quintal Achhi Tarah Sadi Hui Gobar Me Dal Kar Mila Dein Is Ke ALava Mirch Ka Achachha Utpadan Lene Liye 70 KiloGram Nitrogen 48 Phoshphorus 50 Potash Jarurat Hoti Hai Adhi Matra Ropai Jamin Taiyari Samay Bachi आधीआधी 30 45 Dino Baad Chhidak Turant Sinchai
सिंचाई व निराई गुड़ाई
गर्मी में 5 से 7 दिनों के अंतर पर और बरसात में जरूरत के हिसाब से सिंचाई करें. खरपतवार की रोकथाम के लिए समयसमय पर निराईगुड़ाई करनी चाहिए. खरपतवार नियंत्रण के लिए 200 ग्राम आक्सीफ्लूरोफेन प्रति हेक्टेयर का पौधों की रोपाई के ? ठीक पहले छिड़काव (600 से 700 लीटर पानी में घोल कर) करें.

Sinchai Wa Nirai Gudai Garmi Me 5 Se 7 Dino Ke Antar Par Aur BarSaat Jarurat Hisab Karein Kharpatwar Ki Rokatham Liye समयसमय निराईगुड़ाई Karni Chahiye Niyantran 200 Gram आक्सीफ्लूरोफेन Prati Hectare Ka Paudhon Ropai ? Theek Pehle Chhidkaw 600 700 Litre Pani Ghol Kar )

कीड़े व रोग

सफेद लट : इस कीट की लटें पौधों की जड़ों को खा कर नुकसान पहुंचाती ? हैं। इस पर काबू पाने के लिए फोरेट 10 जी या कार्बोफ्यूरान 3 जी 25 किलोग्राम प्रति हेक्टेयर की दर से रोपाई से पहले जमीन में मिला देना चाहिए. सफेद मक्खी, पर्णजीवी (थ्रिप्स), हरा तेला व मोयला : ये कीट पौधों की पत्तियों व कोमल शाखाओं का रस चूस कर उन्हें कमजोर कर देते हैं। इन के असर से उत्पादन घट जाता ? है। इन पर काबू पाने के लिए मैलाथियान 50 ईसी या मिथाइल डिमेटोन 25 ईसी 1 मिलीलीटर या इमिडाक्लोरोपिड 0.5 मिलीलीटर प्रति लीटर पानी की दर से छिड़ाकव करें. 15-20 दिनों बाद दोबारा छिड़ाकव करें.

मूल ग्रंथि सूत्रकृमि : इस के असर से पौधों की जड़ों में गांठें बन जाती ? हैं और पौधे पीले पड़ जाते हैं। पौधों की बढ़वार रुक जाती ? है, जिस से पैदावार में कमी आ जाती है। इस की रोकथाम के लिए रोपाई के स्थान पर 25 किलोग्राम कार्बोफ्यूरान 3 जी प्रति हेक्टेयर की दर से जमीन में मिलाएं.

आर्द्र गलन : इस रोग का असर पौधे जब छोटे होते हैं, तब होता है। इस के असर से जमीन की सतह पर स्थित तने का भाग काला पड़ कर कमजोर हो जाता ? है व नन्हे पौधे गिर कर मरने लगते हैं। रोकथाम के लिए बीजों को बोआई से पहले थाइरम या केप्टान 3 ग्राम प्रति किलोग्राम बीज की दर से उपचारित करें. नर्सरी में बोआई से पहले थाइरम या केप्टान 4 से 5 ग्राम प्रति वर्गमीटर की दर से जमीन में मिलाएं. नर्सरी आसपास की जमीन से 4 से 6 इंच उठी हुई जमीन में बनाएं.

श्याम ब्रण : इस रोग से पत्तियों पर छोटेछोटे काले धब्बे बन जाते हैं और पत्तियां झड़ने लगती ? हैं। जब इस का असर ज्यादा होता है, तो शाखाएं ऊपर से नीचे की तरफ सूखने लगती हैं। पके फलों पर भी बीमारी के लक्षण दिखाई देते हैं। रोकथाम के लिए जाइनेब या मेंकोजेब 2 ग्राम प्रति लीटर पानी में घोल कर 2 से 3 बार छिड़काव 15 दिनों के अंतराल पर करें.

पर्णकुंचन व मोजेक विषाणु रोग : पर्णकुंचन रोग के असर से पत्ते सिकुड़ कर छोटे रह जाते हैं व उन पर झुर्रियां पड़ जाती ? हैं। मोजेक विषाणु रोग के कारण पत्तियों पर गहरे व हलका पीलापन लिए हुए धब्बे बन जाते हैं। रोगों को फैलाने में कीट सहायक होते ? हैं। रोकथाम के लिए रोग लगे पौधों को उखाड़ कर जला देना चाहिए. रोग को आगे फैलने से रोकने के लिए डाइमिथोएट 30 ईसी 1 मिलीलीटर प्रति लीटर पानी की दर से छिड़काव करें.

नर्सरी तैयार करते समय बोआई से पहले कार्बोफ्यूरान 3 जी 8 से 10 ग्राम प्रति वर्गमीटर के हिसाब से जमीन में मिलाएं. रोपाई के समय निरोगी पौधे काम में लें. रोपाई के 10 से 12 दिनों बाद मिथाइल डिमेटोन 25 ईसी 1 मिलीलीटर प्रति लीटर पानी की दर से छिड़काव करें. छिड़काव 15 से 20 दिनों के अंतर पर जरूरत के हिसाब से दोहराएं. फूल आने पर मैलाथियान 50 ईसी 1 मिलीलीटर प्रति लीटर के हिसाब से छिड़कें.

तना गलन : गर्मी में पैदा होने वाली मिर्च में तना गलन को रोकने के लिए टोपसिन एम 0.2 फीसदी से बीजोपचार कर के बोआई करें.

Kide Wa Rog Safed Lat Is Keet Ki Lantein Paudhon Jadon Ko Kha Kar Nuksan Pahunchati ? Hain Par Kabu Pane Ke Liye Phoret 10 Ji Ya Carbofuran 3 25 KiloGram Prati Hectare Dar Se Ropai Pehle Jamin Me Mila Dena Chahiye Makhhi ParnnJeevi Thrips Hara Tela Moyla Ye Pattiyon Komal Shakhaon Ka Ras choos Unhe Kamjor Dete In Asar Utpadan Ghat Jata Hai Malathion 50 EC Methyl Dematone 1 मिलीलीटर इमिडाक्लोरोपिड 0 5 Litre Pani छिड़ाकव

तोड़ाई व उपज

हरी मिर्च के लिए तोड़ाई फल लगने के 15 से 20 दिनों बाद कर सकते हैं। पहली तोड़ाई से दूसरी तोड़ाई का अंतर 12 से 15 दिनों का रखते ? हैं। फलों की तोड़ाई उस के अच्छी तरह से तैयार होने पर ही करनी चाहिए. हरी चरपरी मिर्च तकरीबन 150 से 200 क्विंटल प्रति हेक्टेयर और 15 से 25 क्विंटल प्रति हेक्टेयर सूखी लाल मिर्च प्राप्त की जा सकती है

TodaEe Wa Upaj Hari Mirch Ke Liye Fal Lagne 15 Se 20 Dino Baad Kar Sakte Hain Pehli Doosri Ka Antar 12 Rakhte ? Falon Ki Us Achhi Tarah Taiyaar Hone Par Hee Karni Chahiye Charpari Takriban 150 200 Quintal Prati Hectare Aur 25 Sookhi Laal Prapt Jaa Sakti Hai


Mirch Ki Fasal Jankariyan Jalwayu Kheti Ke Liye Aadra Ushnn Upyukt Hoti Hai Fal Paripakwta Avastha Me Shushk Awashyak Grishm Ritu Adhik Tapaman Se Wa Fool Jhadte हंै Ratri 16 21डिग्री Celcius Banne Atyadhik Bhumi Sabhi Prakar Bhumiyon Jaa Sakti Parantu Achhe Jal Nikas Wali Aivam Carbonic Balui Domat Laal Mitti Jiska PH Maan 6 0 7 Ho Sabse Wo Jisme Vyavastha Nahi Beej Kism Dar Sankar Kismon Ka 120 150 Gram 200 250 Prati E

New Agriculture gk 100+ Agriculture MCQ Questions Answers

New Agriculture gk 100+ Agriculture MCQ Questions Answers

New Agriculture gk 100+ Agriculture MCQ Questions Answers Hello readers,  ।Agriculture Gk in hindi। If you are doing preparation for HSSC, SSC Exams, come to us regularly. Agriculture Gk in hindi for HSSC exams like SSC CGL, SSC CHSL haryana police, gram sachiv, clerk, canal patwari, HPSC. । haryana general knowledge and current affairs ।. । haryana Samanyagyan ।

agriculture gk in hindi,  agriculture gk app,  agriculture gk for bank exam,  agriculture gk for bank exam in hindi,  agriculture gk in hindi app,  agriculture questions for students,   general agriculture objective questions ebook,  agriculture question and answer 2013,

 New Agriculture gk 100+ Agriculture MCQ Questions Answers 

agriculture gk in hindi, agriculture gk app,  agriculture gk for bank exam, agriculture gk for bank exam in hindi,  agriculture gk in hindi app, agriculture questions for students,  general agriculture objective questions ebook, agriculture question and answer 2018.

Haryana Gk for HSSC

Haryana GK 1500 QUestions.

India Gk in hindi 10000+ Questions

Science gk in hindi 3000+ Questions

Computer gk 3000+Questions

Agriculture gk in hindi

1. The main advantage of ‘PVC’ pipes for drainage is the feasibility of—

(A) Mechanical laying (B) Physical laying
(C) Chemical laying (D) Physical, chemical laying both

(Ans : A)

2. ‘ESCORT’ tractor is manufactured at—
(A) Faridabad (B) Ghaziabad
(C) Kanpur (D) Chennai

(Ans : A)

3. Soil erosion by wind brings about the serious damage in soil by changing the—
(A) Soil permeability (B) Soil structure
(C) Soil texture (D) Soil plasticity

(Ans : C)

4. High compression petrol engines are used in some tractors and have high performance in—
(A) U.S.A. (B) Germany
(C) Japan (D) Holland

(Ans : A)

5. The distribution of fertilizers by aircraft is widely practised in—
(A) England (B) France
(C) Gennany (D) New Zealand

(Ans : D)

6. A 2- row potato harvester, working in good conditions with 4 to 5 men on the machine, can do how much hectare per day ?
(A) 0.5-0.6 ha (B) 1.2-1.4 ha
(C) 2.5 ha (D) 1.8-1.9 ha

(Ans : B)

7. Mole drainage is practised extensively in country—
(A) New Zealand (B) Japan
(C) U.S.A. (D) China

(Ans : A)

8. Which is not included in the sources of energy, getting for agricultural work ?
(A) Diesel engine (B) Electric motor
(C) Bullocks (D) Cow

(Ans : D)

9. Which is included in dairy equipments ?
(A) Threshers (B) Lactometer
(C) Cane Planter (D) Winnowers

(Ans : B)

10. In our country, for the manufacturing of agricultural implements tools, mostly wood is used, because—
(A) Easy available at all the places (B) Wood is cheaper
(C) Easy to repare tools made-up of wooden, compound to metal tools
(D) Above (A) to (C) are correct

(Ans : D)

11. Which of the following wood is not used for making handle of spade ?
(A) Sheesham (B) Babool
(C) Neem (D) Mango

(Ans : A)

12. Soil turning plough makes the furrow of which type (shape) ?
(A) ‘V’ shape (B) ‘L’ shape
(C) ‘O’ shape (D) No definite shape

(Ans : B)

13. Which of the following is one (single) handed soil turning plough ?
(A) Punjab plough (B) Praja plough
(C) Victory plough (D) U. P. No.1 plough

(Ans : B)

New Agriculture gk 100+ Agriculture MCQ Questions Answers 

14. The purpose of tillage is/are—
(A) Soil clods breaking and suppressing in soil (B) Eradication of weeds
(C) Leveling of soil (D) Above (A), (B) and (C)

(Ans : D)

15. The main function of cultivator is—
(A) To turn the soil (B) To make furrow in soil
(C) To pulverize the soil (D) All above three functions (Ans : C)

16. Bakhar is generally used in—
(A) U. P. (B) Bundelkhand
(C) Vindhya Pradesh (D) In all the States/parts of India (in All India)

(Ans : B)

17. Harrow is drawn by—
(A) Bullocks (B) Tractor
(C) Diesel (D) Bullocks and Tractor both

(Ans : D)

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #13

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #15

18. Which of the following is not a secondary tillage implement ?
(A) Cultivators (B) Harrow
(C) Hoe (D) Meston plough

(Ans : D)

19. The term ‘Olpad’ in ‘Olpad Thresher’ is named on the name of—
(A) Scientist (B) Village
(C) Labourer (D) Farmer

(Ans : B)

20. Which of the following ‘hoe’ is bullock drawn ?
(A) Akola hoe (B) Sharma hoe
(C) Wheel hoe (D) Naini type hoe

(Ans : A)

21. The land levelling implement is—
(A) Patela (B) Roller
(C) Scrapper (D) All of the above

(Ans : D)

22. Patela is used for—
(A) Sowing (B) Levelling
(C) Earthing (D) Weeding

(Ans : B)

23. Which of the material is not used for making rollers ?
(A) Wood (B) Stone
(C) Iron (D) Steel

(Ans : D)

24. In which condition, roller is used ?
(A) Where soil is wet (B) Where clods are present in soil
(C) Where soil is friable (D) None of the above

(Ans : D)

25. Which one of the following work is not done by scrappers ?
(A) For levelling of soil (B) For making irrigation channels
(C) For covering the sown-seeds by earth (D) For making ridges

(Ans : C)

26. Dibbler is used for—
(A) Ploughing (B) Seed sowing
(C) Levelling of land (D) Interculture

(Ans : B)

New Agriculture gk 100+ Agriculture MCQ Questions Answers 

27. The minimum expenditure is incurred by implements for sowing seeds among the following—
(A) Deshi plough (B) Cultivator
(C) Dibbler (D) Seed-drill

(Ans : D)

28. Which of the following tool is used for measuring the draft of agricultural implements?
(A) Dynamometer (B) Hydrometer
(C) Galvanometer (D) Barometer

(Ans : A)

29. Which of the following does not affect the draft of ploughs ?
(A) Width of furrow (B) Depth of furrow
(C) Length of furrow (D) Soil moisture

(Ans : C)

30. Swing-basket (Dhenkuli) is used for—
(A) Making furrow (B) Lifting water from wells
(C) Destroying weeds (D) Leveling of land

(Ans : B)

31. Which of the following is used maximum for lifting water from wells ?
(A) Persian wheel (Rahat) (B) Swing basket (Bedi)
(C) Dhenkuli (D) Don

(Ans : A)

32. Which of the following is used for lifting water from 8-10 m depth ?
(A) Washer Rahat (B) Hand pump
(C) Mayadar lift (D) None of the above

(Ans : D)

33. In which implement. bullocks are not used for lifting water ?
(A) Buldev Balti (B) Charsa
(C) Egyptian screw (D) Rahat (Persian wheel)

(Ans : C)

34. The working efficiency per day of deshi plough is—
(A) 0.3 ha (B) 0.4 ha
(C) 0.6 ha (D) 0.8 ha

(Ans : B)

35. Which of the method of ploughing is mostly practised ?
(A) Outside to inside ploughing (B) Inside to outside ploughing
(C) Ploughing by putting furrow from one side of field (D) Ploughing by halai making

(Ans : D)

36. The best method of ploughing through deshi plough is—
(A) Outside to inside ploughing (B) Inside to outside ploughing
(C) Ploughing by making halai (D) Ploughing by making furrow from one side of field

(Ans : C)

37. How much is the working efficiency of dibbler (ha per day) ?
(A) 0.15 (B) 0.25
(C) 0.35 (D) 0.45

(Ans : A)

(All Haryana Distt Gk In Hindi)– ( Haryana Gk Distt Wise)

Charkhi Dadri  │  │Faridabad │ │Rewari │  │Mahendragarh   │  │Gurgaon/ Gurugram  │  │Palwal  │  │Rohtak │  │Bhiwani  │  │Ambala    │  │Kaithal   │   │Panchkula  │   │Karnal    │  │YamunaNagar    │  │Sonipat     │  │Panipat    │  │Fatehabad  │    │Jind  │    │Hisar   │    │Sirsa     │  │Kurukshetra  │ 

38. Tillage includes—
(A) Ploughing of land (B) Keep the land free from weeds
(C) Make the soil levelled (D) All of the above operations

(Ans : D)

39. Function of the seed-drill is—
(A) Making furrow (B) Dropping seeds
(C) Covering the seeds in furrow (D) All of the above

(Ans : D)

40. Wrought iron contains carbon (per cent) —
(A) 0.05-1% (B) 1-2%
(C) 2-3% (D) 3-4%

(Ans : A)

41. The mould-board of a tractor drawn soil turning plough is the type of—
(A) General purpose (B) Stubble
(C) Sod (breaker) (D) High speed

(Ans : D)

42. Among the following, ridger is not used in crop—
(A) Maize (B) Gram
(C) Potato (D) Sugarcane

(Ans : B)

43. Belt mostly used is of types—
(A) Rubber (B) Kirmich
(C) Leather (D) Cotton thread

(Ans : A)

44. The major defects of rubber belts are—
(A) Costly (B) Slips on wet
(C) Early rubbed (D) Increased due to heat

(Ans : B)

45. How many m.m. are in one foot length ?
(A) 304.8 (B) 404.8
(C) 204.8 (D) 104.8

(Ans : A)

46. The grooved pulleys are made-up of—
(A) Steel (B) Cast iron
(C) Wooden (D) Above (A) and (B) both

(Ans : D)

47. A general farmer used deshi plough for the purpose of—
(A) Land ploughing (B) Collecting weeds
(C) Making soil powdery (D) Above all works

(Ans : D)

48. Which of the following is best for driving machine from low power to slow speed ?
(A) Belts and pulley (B) Spur gear
(C) Toothed wheel and chains (D) None of the above

(Ans : A)

49. Reapers are used for—
(A) Crop cutting (B) Threshing of harvested crop produce (lank)
(C) Seeds sowing (D) Fodder cutting

(Ans : A)

50. Threshers (except Olpad threshers) are driven by—
(A) One pair of bullocks (B) Two pair of bullocks
(C) Diesel (D) All of the above (Ans : C)

51. Winnowing it called—
(A) Cutting a crop (B) To separate straw etc. from threshed lank
(C) To thresh (D) Cutting the fodder

(Ans : B)

52. Chaff-cutter is driven by—
(A) Hand (B) Bullocks
(C) Electric power (D) All of the above

(Ans : D)

53. Sugarcane juice is extracted (%) from canes through bullock-drawn cane-crusher—
(A) 50-55 (B) 70-75
(C) 25-30 (D) 60-65

(Ans : D)

54. ‘Olpad’ thresher is used in—
(A) Oil extraction from mustard, toria etc. (B) Extracting juice from cane
(C) Threshing of wheat, barley, pea etc. (D) All (A), (B) and (C)

(Ans : C)

55. ‘Seed dresser’ is used for—
(A) Mixing/treating seeds with chemicals (B) Sowing seeds at proper distance
(C) Making seeds of high grade (D) Keeping seeds effective upto longer period (Ans : A)

56. ‘Try square’ is used by—
(A) Blacksmith (B) Carpenter
(C) Potter (D) Farmers

(Ans : B)

57. Which type of saw is not included ?
(A) Cross cut saw (B) Deshi saw
(C) Tenon saw (D) Teething saw

(Ans : D)

58. Which type of saw, used for cutting round shape in hole ?
(A) Fret saw (B) Penal saw
(C) Tenon saw (D) Key hole saw

(Ans : D)

59. ‘Draw-Knife’ is used for—
(A) To fit galua in grinder (B) Making round the corners of wood
(C) Smoothing the base of wood (D) Sharping teeth of saw

(Ans : B)

60. The tool used for making deep pit in wood is—
(A) Adge (B) Saw
(C) Draw knife (D) Chisel

(Ans : D)

61. The main work of ‘scrapper‘ is—
(A) For cutting the wood (B) For scrapping the wood
(C) For smoothing the wood (D) All of the above

(Ans : C)

62. ‘File’ is used for—
(A) Scrapping the wood (B) Cutting the wood
(C) Forcing the wood (D) Making equal by scrapping the wood

(Ans : D)

63. The type of file is generally—
(A) Round (B) Triangular
(C) Flate (D) Above all types (Ans : D)

64. Brace machine is used for—
(A) Making hole in wood (B) Scrapping the wood
(C) For smoothing the wood (D) None of these

(Ans : A)

65. Which one machine/tool is not used in making hole in wood ?
(A) Ordinary drill (B) Hand drill
(C) Pincer (D) Twist bit

(Ans : C)

66. ‘Bar cramp’ is a tool of—
(A) Wood cutting (B) Catching tightly wood
(C) Beating tool (D) Smoothing tool

(Ans : B)

67. Nail (Keel) pulling is done by—
(A) Claw-hammer (B) Pincer
(C) Plier (D) All of these

Ans : (E)

68. ‘Forging’ is said—
(A) Heating the iron (B) Beating the hot iron
(C) Converting into desired shape by beating the iron (D) Beating iron and making hole in it (Ans : C)

69. ‘Anvil’ (Nihai) is used for—
(A) Beating the iron on keeping over this (B) By beating iron through this
(C) Heating iron through handling this (D) Cooling of hot iron

(Ans : A)

70. Fire is pulled-up through—
(A) Poker (B) Sewage block
(C) Showel (D) Anvil

(Ans : A)

71. ‘Sledge’ is used to—
(A) Lift heavy material (B) Fire furnace
(C) Cut the iron in cold condition (D) Cut the iron in hot condition

(Ans : A)

72. The roller of cane-crusher is made-up of which steel ?
(A) Cast iron (B) Gun metal
(C) High carbon steel (D) Wrought iron

(Ans : A)

73. The tool use for catching (handling) the claw and turning it hither and thither during beating is called—
(A) Sewage block (B) Chisel
(C) Plier (D) Tongs (Ans : D)

74. Punches are of—
(A) Two types (B) Three types
(C) Four types (D) Several types (Ans : B)

75. Agricultural tractors are generally having horse power (h.p.) —
(A) 20-50 (B) 50-70
(C)10-15 (D) 20-25

(Ans : A)

76. A three-tine furrow plough is ploughing at a speed of 2 km/hr and the each furrow size is 20 cm wide and 12 cm deep furrow. How much time, it would require to plough 5 hectare land ?
(A) 41 hours 40 minutes (B) 40 hours 55 minutes
(C) 20 hours 55 minutes (D) None of these

(Ans : A)

77. If a gear ‘A’, having 50 teeth and running at a speed of 200 r.p.m. is driving to another gear ‘B’ having 125 r.p.m. How many number of teeth in gear’ B’ ?
(A) 500 (B) 400
(C) 80 (D) 60

(Ans : C)

78. Animal driven cane planter is developed by—
(A) ICAR (B) CIAE
(C) IISR (D) IARI

(Ans : C)

79. A 10 cm wide belt is running at a speed of 900 r.p.m. If the 15 H. P. is available, then how much plies of belt ?
(A) 3 (B) 10
(C) 6 (D) 4

(Ans : D)

80. How much width belt would be needed if 20 H. P. is to be transferred through a belt of 10 plies, where speed of belt is 1460 r.p.m. ?
(A) 4 cm (B) 8 cm
(C) 5 cm (D) 6 cm

(Ans : B)

81. A 10 cm wide belt, having the speed of 1350 meter per minute, would be appropriate to transfer the how much H. P. ?
(A) 20 (B) 15
(C) 25 (D) 40 (Ans : B)

82. A tractor driving pulley has its 25 cm diameter and revolving at a speed of 960 r.p.m. If on the shaft of a thresher, an attached pulley is revolving at a speed of 1600 r.p.m. what would be the diameter of this pulley ?
(A) 16 cm (B) 15 cm
(C) 12 cm (D) 20 cm

(Ans : C)

83. A pulley of 21 cm diameter and revolving at 1600 r.p.m. Find out the speed of the belt running over it—
(A) 1120 m/minute (B) 1200 m/minute
(C) 1056 m/minute (D) None of these

(Ans : B)

84. If the distance between two pullies, having the diameter of 45 cm and 39 cm, is 3.2 metre, then what would be length of required flate belt ?
(A) 6.8 m (B) 7.72 m
(C) 9.4 m (D) 7.2 m

(Ans : B)

(All Haryana Distt Gk In Hindi)– ( Haryana Gk Distt Wise)

Charkhi Dadri  │  │Faridabad │ │Rewari │  │Mahendragarh   │  │Gurgaon/ Gurugram  │  │Palwal  │  │Rohtak │  │Bhiwani  │  │Ambala    │  │Kaithal   │   │Panchkula  │   │Karnal    │  │YamunaNagar    │  │Sonipat     │  │Panipat    │  │Fatehabad  │    │Jind  │    │Hisar   │    │Sirsa     │  │Kurukshetra  │ 

85. Two pair of bullocks are ploughing a field by victory ploughs at a speed of 2 km/hr. If the average width of each furrow is 25 cm. How much time will be required to plough one hectare land? Where after each two hours working, 20 minutes rest is required to provide ?
(A) 10 hours (B) 8 hours
(C) 11 hours 40 minutes (D) 8 hours 20 minutes

(Ans : C)

86. If the relative distance is 2.5 metre of centre points of two pullies, having SO cm and 25 cm diameters, then, how much length (metre) of ‘V’ belt would be required ?
(A) 6.18875 (B) 5.18775
(C) 6.28775 (D) 6.18775

(Ans : D)

87. A ‘chain’ contains how much metre ?
(A) 20.1168 (B) 21.1168
(C) 15.1168 (D) 18.1168

(Ans : A)

88. If the rate of electricity is rupee one per unit, then, a 20 h. p. electric motor, having approx. 100% efficiency will require how much cost (Rs.) on 100 hours running to irrigate the field ?
(A) 500 (B) 750
(C) 1500 (D) 2000

(Ans : C)

89. ‘Drip’ irrigation is generally followed in the country—
(A) Israel (B) America
(C) Australia (D) Japan (Ans : A)

90. In India, under canal net-work system of irrigation, generally, how much amount of water is allowed to run in small canal ?
(A) Less than 4 cusec (B) Less than 10 cusec
(C) Between 15 to 20 cusec (D) Between 25 to 30 cusec (Ans : B)

91. Method of irrigation is—
(A) Surface irrigation (B) Sprinkler irrigation
(C) Drip irrigation (D) All of these

(Ans : D)

92. The Torque—a power to generate revolutions is expressed as (its unit is kg metre) —
(A) Length of arm (m) x Force (kg) (B) Length of arm (cm) x Force (kg)
(C) Length of arm (m) x Force (g) (D) Length of arm (rom) x Force (mg)

(Ans : A)

93. Work is expressed by the formula as—
(A) Work = Force (kg) x Distance (m) (B) Work = Force (g) x Distance (m)
(C) Work = Force (mg) x Distance (m) (D) Work = Force (kg) x Distance (cm)

(Ans : A)

94. The length of ‘Engineer chain’ is—
(A) 100 ft (B) 80 ft
(C) 20 ft (D) None of these

(Ans : A)

95. The length of ‘Gunter chain’ is—
(A) 66 ft (B) 100 ft
(C) 20 ft (D) 90 ft

(Ans : A)

96. The area of an acre is—
(A) 0.40 (B) 0.80
(C) 1.10 (D) None of these

(Ans : D)

97. One centimetre is equal to—
(A) 5 mm (B) 10 mm
(C) 15 mm (D) None of these (Ans : B)

98. The draft of ‘Victory plough’ is—
(A) 80-100 kg (B) 40-50 kg
(C) 70-80 kg (D) 10-20 kg

(Ans : A)

99. How much horse power (h.p.) is in one kW (Kilowatt) ?
(A) 1.34 (B) 1.90
(C) 2.00 (D) 3.80

(Ans : A)

100. Man power is considered equal to how much horse power (h.p.) ?
(A) 0.1 (B) 0.2
(C) 0.3 (D) 0.4

(Ans : A)

 

आपको यह हिंदी कहानी कैसी लगी, अपने विचार कमेंट द्वारा दें. धन्यवाद!

Agriculture gk 100+ Agriculture MCQ Questions Answers

Agriculture gk 100+ Agriculture MCQ Questions Answers

Agriculture gk 100+ Agriculture MCQ Questions Answers Hello readers,  ।Agriculture Gk in hindi। If you are doing preparation for HSSC, SSC Exams, come to us regularly. Agriculture Gk in hindi for HSSC exams like SSC CGL, SSC CHSL haryana police, gram sachiv, clerk, canal patwari, HPSC. । haryana general knowledge and current affairs ।. । haryana Samanyagyan ।

 Agriculture gk 100+ Agriculture MCQ Questions Answers 

agriculture gk in hindi, agriculture gk app,  agriculture gk for bank exam, agriculture gk for bank exam in hindi,  agriculture gk in hindi app, agriculture questions for students,  general agriculture objective questions ebook, agriculture question and answer 2018.

Haryana Gk for HSSC

Haryana GK 1500 QUestions.

India Gk in hindi 10000+ Questions

Science gk in hindi 3000+ Questions

Computer gk 3000+Questions

Agriculture gk in hindi

1. Jalpriya is a variety of—
(A) Maize
(B) Jowar
(C) Paddy
(D) Barley
Ans : (C)

2. Sugarcane + Potato is an intercropping system of—
(A) Autumn season
(B) Zaid season
(C) Spring season
(D) Rainy season
Ans : (A)

3. Seed-rate of potato per hectare is—
(A) 25 quintal/hectare
(B) 10 quintal/hectare
(C) 15 quintal/hectare
(D) 40 quintal/hectare
Ans : (D)


4. Deficiency symptoms of calcium on plants first appear at—
(A) Lower leaves
(B) Middle leaves
(C) Terminal leaves
(D) All leaves
Ans : (C)

5. Which weedicide is used to kill broad leaf weeds in wheat ?
(A) 2, 4 – D.S.S. (WPSS)
(B) 2, 4, 5 – T
(C) 2, 4 – DB
(D) None of these
Ans : (A)

6. Maya is the variety of—
(A) Potato
(B) Gram
(C) Pea
(D) Mustard
Ans : (D)

Agriculture gk 100+ Agriculture MCQ Questions Answers

7. The weed that causes Asthma is—
(A) Hirankhuri
(B) Bathua
(C) Parthenium
(D) Krishna Neel
Ans : (C)

8. Which crop requires maximum amount of nitrogen ?
(A) Potato
(B) Wheat
(C) Barley
(D) Sugarcane
Ans : (D)

9. First dwarf variety of paddy developed in India is—
(A) Jaya
(B) Saket-4
(C) Govind
(D) Narendra-97
Ans : (C)

10. Sprinkler irrigation is suitable, where the soil has—
(A) Clayey texture
(B) Loamy texture
(C) Undulating topography
(D) All of these
Ans : (D)

11. Endosulphan is also known as—
(A) Lindane
(B) Thiodan
(C) Aldrin
(D) B.H.C.
Ans : (B)

12. Which of the following is systemic poison ?
(A) Metasystox
(B) Phosphomidan
(C) Phorate
(D) All of these
Ans : (C)

13. DDVP is known as—
(A) Nuvan
(B) Malathion
(C) Thiodan
(D) Sulfex
Ans : (A)

14. Seed treatment with Vitavex is the main controlling method of—
(A) Loose smut
(B) Rust
(C) Downy mildew
(D) All of these
Ans : (D)

15. Covered smut of barley is a disease of—
(A) Externally seed-borne
(B) Internally seed-borne
(C) Air-borne
(D) None of these
Ans : (B)

16. Which of the following cakes is not edible ?
(A) Castor cake
(B) Mustard cake
(C) Sesame cake
(D) Groundnut cake
Ans : (A)

17. In India, about 142 million hectare land is under—
(A) Cultivation
(B) Waste land
(C) Forest
(D) Eroded land
Ans : (A)

18. The headquarters of Indian Meteorological Department was established in 1875 at—
(A) New Delhi
(B) Hyderabad
(C) Pune
(D) Calcutta
Ans : (D)

19. Moisture condensed in small drops upon cool surface is called—
(A) Hail
(B) Dew
(C) Snow
(D) Fog
Ans : (B)

20. How many agro-climatic zones (ACZ) are found in India ?
(A) 16
(B) 18
(C) 15
(D) 20
Ans : (C)

21. Tilt angle of a disc plough is generally—
(A) 10°
(B) 15°
(C) 20°
(D) 45°
Ans : (D)

22. Pudding is done to—
(A) Reduce percolation of water
(B) Pulverise and levelling soil
(C) Kill weeds
(D) All of the above
Ans : (D)

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #13

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #15

23. The Community Development Programme (CDP) was started in India on—
(A) 2nd October, 1950
(B) 2nd October, 1952
(C) 2nd October, 1951
(D) None of these
Ans : (B)

24. The main unit of Integrated Rural Development Programme is—
(A) Family
(B) Village
(C) Block
(D) District
Ans : (B)

25. Element of Communication is—
(A) Message
(B) Feedback
(C) Channel
(D) All of these
Ans : (D)

Prime Minister Research Fellowship Scheme Online Application Form @ pmrf.in

26. The first Kshetriya Gramin Bank (KGB) was opened in India is—
(A) 1972
(B) 1980
(C) 1975
(D) 1969
Ans : (C)

27. The main function of NABARD is—
(A) Farmers’ loaning
(B) Agricultural research
(C) Refinancing to agricultural financing institutions
(D) Development of agriculture
Ans : (C)

28. Rent theory of profit was given by—
(A) Hawley
(B) C.P. Blacker
(C) Tanssig
(D) F.A. Walker
Ans : (D)

29. In L.D.R., the profit will be maximum when—
(A) MC = MP
(B) MC > MP
(C) MP = TP
(D) MP > TP
Ans : (D)

30. The period of 11th Five Year Plan is—
(A) 2000-2005
(B) 2002-2007
(C) 2007-2012
(D) 2008-2012
Ans : (C)

31. Acid rain contains mainly—
(A) PO4
(B) NO2
(C) NO3
(D) CH4
Ans : (B)

32. Cell Organelle found only in plants are—
(A) Mitochondria
(B) Golgi complex
(C) Ribosomes
(D) Plastids
Ans : (D)

33. Proteins are synthesized in—
(A) Centrosomes
(B) Ribosomes
(C) Mitochondria
(D) Golgi bodies
Ans : (B)

(All Haryana Distt Gk In Hindi)– ( Haryana Gk Distt Wise)

Charkhi Dadri  │  │Faridabad │ │Rewari │  │Mahendragarh   │  │Gurgaon/ Gurugram  │  │Palwal  │  │Rohtak │  │Bhiwani  │  │Ambala    │  │Kaithal   │   │Panchkula  │   │Karnal    │  │YamunaNagar    │  │Sonipat     │  │Panipat    │  │Fatehabad  │    │Jind  │    │Hisar   │    │Sirsa     │  │Kurukshetra  │ 

34. Milk fever is caused due to the deficiency of—
(A) P
(B) Ca
(C) Mg
(D) K
Ans : (B)

35. Milk sugar is a type of—
(A) Glucose
(B) Sucrose
(C) Lactose
(D) Fructose
Ans : (C)

36. Muriate of Potash is—
(A) K2SO4
(B) KCl
(C) K2HPO4
(D) KNO3
Ans : (B)

37. Azotobacter fixes atmospheric nitrogen in the soil by—
(A) Symbiotically
(B) Non-symbiotically
(C) Both (A) and (B)
(D) None of these
Ans : (A)

38. The chemical formula of iron pyrites is—
(A) FeSO4
(B) FeS
(C) FeS2
(D) Fe2(SO4)3
Ans : (C)

39. Rock phosphates are used in—
(A) Saline soil
(B) Sodic soil
(C) Acidic soil
(D) Neutral soil
Ans : (C)

40. Intervenous chlorosis is caused due to the deficiency of—
(A) N
(B) Mg
(C) S
(D) Fe
Ans : (D)

41. Kinnow is the hybrid variety of—
(A) Citrus
(B) Orange
(C) Mandarin
(D) Lemon
Ans : (C)

42. The permanent preservative, which is used for preservation of fruit and vegetables, is—
(A) Sodium chloride
(B) Potassium metabisulphate
(C) Potassium sulphate
(D) Sugar
Ans : (B)

43. Whip tail disease of cauliflower is caused by deficiency of—
(A) Nitrogen
(B) Boron
(C) Molybdenum
(D) Zinc
Ans : (C)

44. The word ‘Agriculture’ is derived from—
(A) Greek
(B) Latin
(C) Arabic
(D) French
Ans : (B)

45. Motha (Grass nut) belongs to the family of—
(A) Cruciferae
(B) Tiliaceae
(C) Cyperaceae
(D) Graminaceae
Ans : (C)

46. Which of the followings are short day crops ?
(A) Maize, Lobia, Bajra
(B) Wheat, Mustard, Gram
(C) Moong, Soybean, Bajra
(D) Wheat, Soybean, Bajra
Ans : (B)

47. What is the sequence of C4 plants ?
(A) Sudangrass – Sugarcane –Paddy – Bajra
(B) Sugarcane – Maize – Sudangrass – Bajra
(C) Sugarcane – Cotton – Paddy– Maize
(D) Cotton – Maize – Bajra –Sugarcane
Ans : (B)

48. Match List-I (crops) with List-II (water requirement) and select your answer from the code given below—
List-I
(a) Jowar
(b) Soybean
(c) Cotton
(d) Groundnut
List–II
1. 140 mm – 300 mm
2. 350 mm – 450 mm
3. 200 mm – 300 mm
4. 300 mm – 350 mm
Codes :
(a) (b) (c) (d)
(A) 3 1 2 4
(B) 4 2 3 1
(C) 1 4 2 3
(D) 3 1 4 2
Ans : (C)

49. In which state, are there biggest area, highest production and number of Sugar Mills in relation to Sugarcane ?
(A) Maharashtra
(B) Bihar
(C) Uttar Pradesh
(D) Andhra Pradesh
Ans : (A)

50. Which is not prepared by potato ?
(A) Acetic Acid
(B) Paper
(C) Wine
(D) Fanina
Ans : (B)

Agriculture gk 100+ Agriculture MCQ Questions Answers

51. Uttar Pradesh is occupying which place in India, for Guava production ?
(A) Second
(B) First
(C) Third
(D) Fifth
Ans : (A)

52. Which of the following is TPS variety of Potato ?
(A) JH 222
(B) Chipsona-II
(C) Anand
(D) HPS-1/113
Ans : (D)

53. What is VAM ?
(A) Virus
(B) Bacteria
(C) Algae
(D) Fungi
Ans : (D)

54. What is the main function of zinc in the plants ?
(A) Synthesis of nitrogen
(B) Synthesis of phosphorus
(C) Required for synthesis of Tryptophos
(D) To increase activity of the boron
Ans : (C)

55. What is the area in floriculture (in 000 hectare) in India ?
(A) 40 – 50
(B) 60 – 80
(C) 100 – 120
(D) None of these
Ans : (C)

56. Which of the following factors does not affect the nitrification ?
(A) Air
(B) Seed
(C) Temperature
(D) Moisture
Ans : (B)

57. Which is the correct sequence of soil erosion ?
(A) Rill – Sheet – Gulley
(B) Gulley – Sheet – Rill
(C) Sheet – Rill – Gulley
(D) Sheet – Gulley – Rill
Ans : (C)

58. Zinc Sulphate (ZnSO4) should not be mixed with—
(A) D.A.P.
(B) Compost fertilizer
(C) Ammonium Chloride
(D) Urea
Ans : (A)

Dance Forms in India

59. Insecticides are specific inhibitors of—
(A) Excretory system
(B) Digestive system
(C) Nervous system
(D) Blood Circulatory system
Ans : (D)

60. The credit for the success of Krishi Vigyan Kendras (KVK) goes to—
(A) Dr. R. S. Paroda
(B) Dr. Chandrika Prasad
(C) Dr. Mohan Singh Mehta
(D) Dr. Mangla Rai
Ans : (D)

61. Cauliflower belongs to the family—
(A) Cruciferae
(B) poacae
(C) Malvaceae
(D) Leguminaceae
Ans : (A)

62. Which type of soil is best for knolkhol ?
(A) Loam
(B) Clayey loam
(C) Silty clayey loam
(D) Clay
Ans : (B)

63. Which of the following soil type is most suitable for garlic cultivation ?
(A) Loamy sand
(B) Sandy loam
(C) Loam
(D) Clay
Ans : (B)

64. Average planting distance (R P) of guava is—
(A) 5 m 5 m
(B) 6 m 6 m
(C) 8 m 8 m
(D) 10 m 10 m
Ans : (B)

65. Which of the following soil type has the highest field capacity ?
(A) Loam
(B) Silty loam
(C) Clayey loam
(D) Clay
Ans : (D)

66. The trade name of phorate is—
(A) Temic
(B) Thiodan
(C) Phortox
(D) Metasystox
Ans : (C)

67. The sprayers are cleaned before use by—
(A) 1% chlorine water
(B) 1% hydrochloric acid
(C) 1% ammonia water
(D) 1% bromine water
Ans : (B)

68. The cyanogas pump is a /an—
(A) Duster
(B) Fumigator
(C) Sprayer
(D) Emulsifier
Ans : (D)

69. The main reason of Irish Famine in Potato was—
(A) Late Blight disease
(B) Bacterial Blight disease
(C) Blast disease
(D) Ear Cockle disease
Ans : (A)

70. The instrument, which is used for sowing of seed with fertilizer together at a time, is—
(A) Seed drill
(B) Dibbler
(C) Seed sowing behind plough
(D) Ferti-cum Seed drill
Ans : (D)

71. Seed treatment is done to control—
(A) Soil-borne disease
(B) Air-borne disease
(C) Seed-borne disease
(D) None of these
Ans : (C)

72. Salt tolerant crop is—
(A) Cowpea
(B) Field pea
(C) Garlic
(D) Longmelon
Ans : (A)

73. Which of the following is not a dairy breed of cattle ?
(A) Sahiwal
(B) Sindhi
(C) Nagore
(D) All these
Ans : (D)

74. Stored grains can be saved from insect damage, if the grain moisture content is—
(A) <> 10%
(C) 10%
(D) None of these
Ans : (C)

75. Which of the following pesticides has been banned in India ?
(A) Rogor
(B) DDT
(C) Metasystox
(D) Dimecron
Ans : (B)

76. Pulses fit well in cropping system as they are—
(A) Short duration crops
(B) Disease resistant crops
(C) Long duration crops
(D) Moisture stress resistant crops
Ans : (D)

77. Wheat is a—
(A) Cash crop
(B) Cereal crop
(C) Covered crop
(D) None of these
Ans : (B)

78. Autumn sugarcane is planted in month of—
(A) February-March
(B) July
(C) October
(D) December
Ans : (C)

79. Seed-rate for timely sown wheat is—
(A) 75 kg/ha
(B) 100 kg/ha
(C) 125 kg/ha
(D) 150 kg/ha
Ans : (C)

80. Most critical stage in wheat for irrigation is—
(A) C.R.I.
(B) Flowering
(C) Milk
(D) Dough
Ans : (A)

81. Name of most popular variety of wheat in Uttar Pradesh is—
(A) PBW – 343
(B) U.P. – 2338
(C) K – 7903
(D) K – 9107
Ans : (B)

82. KPG – 59 (Udai) is a variety of—
(A) Field pea
(B) Vegetable pea
(C) Lentil
(D) Gram
Ans : (D)

83. In plain, Rajma is cultivated during—
(A) Kharif
(B) Rabi
(C) Zaid
(D) None of these
Ans : (A)

84. Which crop is recommended for Zaid season cultivation in Uttar Pradesh ?
(A) Vegetable pea
(B) Groundnut
(C) Barley
(D) Lentil
Ans : (B)

85. The most efficient use of potassium is achieved by—
(A) Broadcasting at the sowing time
(B) Top dressing after one month of sowing
(C) Basal placement at the sowing time
(D) Foliar spray
Ans : (C)

86. The term ‘Extension’ was first used in—
(A) U.K.
(B) U.S.A.
(C) India
(D) France
Ans : (B)

87. The first K.V.K. (Krishi Vigyan Kendra) in India was established in—
(A) Bombay
(B) Port Blair
(C) Pondicherry
(D) Madras
Ans : (C)

88. ATMA is related to—
(A) NARP
(B) NAARM
(C) NREP
(D) None of these
Ans : (D)

89. Albert Mayer is the name associated with—
(A) Nilokheri Development Project
(B) Firka Development Project
(C) Etawah Pilot Project
(D) Shriniketan Project
Ans : (C)

90. Co-operative Credit Societies Act was passed in India in—
(A) 1902
(B) 1904
(C) 1906
(D) 1912
Ans : (D)

91. Maximum photosynthesis takes place in—
(A) Blue light
(B) Red light
(C) Violet light
(D) Green light
Ans : (D)

92. Farm Planning means—
(A) Farm Budgetting
(B) Cropping pattern
(C) Type of enterprises
(D) None of these
Ans : (B)

Agriculture GK Multiple choice Questions & Answers.

93. The first product of photosynthesis in C3 plant is—
(A) Pyruvic acid
(B) Phospho-glyceric acid
(C) Oxalo-acetic acid
(D) Succinic acid
Ans : (B)

94. Bending of plants towards light is called—
(A) Phototropism
(B) Vernalisation
(C) Photo-respiration
(D) None of these
Ans : (A)

95. Germination is inhibited by—
(A) Red light
(B) Blue light
(C) U.V. light
(D) I.R. light
Ans : (C)

96. The best method of milking is—
(A) Knuckling method
(B) Fisting method
(C) Stripping method
(D) None of these
Ans : (D)

97. Line breeding is a type of—
(A) Inbreeding
(B) Outbreeding
(C) Natural breeding
(D) None of these
Ans : (A)

98. Match List-I with List-II and select answer from the codes given below—
List-I
(a) White Revolution
(b) Grey Revolution
(c) Blue Revolution
(d) Green Revolution
List-II
1. Fertilizer production
2. Fish production
3. Cereal production
4. Milk production
Codes :
(a) (b) (c) (d)
(A) 4 1 2 3
(B) 1 2 3 4
(C) 2 4 3 1
(D) 1 3 4 2
Ans : (A)

99. ‘Tharparkar’ breed of cow is—
(A) Milch breed
(B) Working breed
(C) Dual purpose breed
(D) None of these
Ans : (C)

100. Cow and buffalo belong to the family—
(A) Bovidae
(B) Suidae
(C) Equidae
(D) Cammelidae
Ans : (A)

101. What is the contribution of Animal Husbandry Sector in the agricultural growth ?
(A) 10%
(B) 12% – 15%
(C) 7% – 9%
(D) 5%
Ans : (C)

102. How many labourers are required to run a 30 cows milch herd ?
(A) 8
(B) 6
(C) 4
(D) 10
Ans : (B)

103. What is the availability of per day per capita milk in India presently (2008-09) ?
(A) 229 gram
(B) 239 gram
(C) 219 gram
(D) 252 gram
Ans : (D)

104. Which place is occupied by India in egg production ?
(A) First
(B) Second
(C) Third
(D) Fourth
Ans : (A)

105. How much calories (cal) may be obtained from 100 gram chicken egg ?
(A) 175 cal
(B) 180 cal
(C) 160 cal
(D) 130 cal
Ans : (C)

106. Main function of biofertilizer is—
(A) To increase chemical process
(B) To increase physiological process
(C) To increase biological process
(D) To increase photosynthesis process
Ans : (C)

107. How much tomato average production (q.) may be yield from one hectare ?
(A) 100
(B) 105-150
(C) 250
(D) 160-275
Ans : (D)

108. Which type of soil is found near the canal banks ?
(A) Acidic and alkaline
(B) Acidic
(C) Alkaline
(D) None of these
Ans : (C)

109. Which one is not biofertilizer ?
(A) Multiflex
(B) PSB
(C) Vermicompost
(D) NADEP
Ans : (A)

110. In which form is nitrogen absorbed by paddy under waterlogged condition ?
(A) NH4 ion
(B) Nitrate ion
(C) NO2 ion
(D) N2
Ans : (B)

111. Which one of the following do not relate to groundnut ?
(A) Brazil
(B) 2n = 40
(C) Pink disease
(D) Tikka disease
Ans : (C)

112. Which of the following is produced highest in India ?
(A) Mango
(B) Banana
(C) Papaya
(D) Grapes
Ans : (A)

113. The optimum temperature for the Banana crop is—
(A) 30°C
(B) 23°C
(C) 21•5°C
(D) 26•5°C
Ans : (B)

114. Which one of the following varieties has been selected to develop Narendra Aonla-6 variety ?
(A) Chakaiya
(B) Hathijhool
(C) Banarasi
(D) Narendra Aonla-6
Ans : (D)

115. Red soil is poor in which of the following nutrients ?
(A) Phosphorus and Sulphur
(B) Phosphorus and Nitrogen
(C) Nitrogen and Zinc
(D) Nitrogen and Potassium
Ans : (D)

116. A farming system in which airable crops are grown in alleys formed by trees or shrubs, to establish soil fertility and to enhance soil productivity, is known as—
(A) Relay cropping
(B) Multiple cropping
(C) Alley cropping
(D) Mixed cropping
Ans : (C)

117. The cropping intensity of Groundnut + Arhar – Sugarcane is—
(A) 200%
(B) 300%
(C) 150%
(D) 250%
Ans : (C)

118. The scented variety of paddy is—
(A) Jaya
(B) Bala
(C) Type-3
(D) Type-1
Ans : (C)

119. From which language is the word ‘Agronomy’ taken ?
(A) Latin
(B) Greek
(C) French
(D) German
Ans : (B)

120. Tarameera is belonged to which family ?
(A) Cruciferae
(B) Linaceae
(C) Compositae
(D) Graminae
Ans : (A)

121. The size of clay particles are—
(A) 1•0 mm
(B) 0•2 – 0•02 mm
(C) < 0•02 mm
(D) < 0•002 mm
Ans : (D)

122. When one plant has both male and female flowers separately, is called—
(A) Monophrodits
(B) Monoecious
(C) Hermaphrodite
(D) Apomixis
Ans : (D)

123. Aamrapali is the cross of—
(A) Neelam x Dashaheri
(B) Dashaheri x Langra
(C) Langra x Dashaheri
(D) Dashaheri x Neelam
Ans : (D)

124. Seed-plot technique is adopted in—
(A) Onion
(B) Potato
(C) Sugarcane
(D) Tomato
Ans : (B)

125. The origin of litchi is—
(A) India
(B) Philippines
(C) China
(D) Burma
Ans : (C)

आपको यह हिंदी कहानी कैसी लगी, अपने विचार कमेंट द्वारा दें. धन्यवाद!

Download Important Agriculture notes in Hindi PDF

Agriculture gk in Hindi PDF Download Questions and answers in Hindi for upcoming SSC cgl, SSC MTS and bank exams guys. Download and learn this Agriculture gk in Hindi PDF and crack the upcoming exams. कृषि सामान्य ज्ञान हिंदी में. These agriculture-related GK will really helP. Download Important Agriculture notes in Hindi PDF.

Download Important Agriculture notes in Hindi PDF

 

R K Sharma Agriculture book

भारतीय कृषि PDF 

भारतीय कृषि एवं पशुपालन 

4 Current Agriculture 01 download in PDF
5 Krishi Current Agriculture 02 download in PDF
6 RK Sharma Krishi Current Agriculture 03 download in PDF
7 Indian Krishi Current Agriculture 04 download in PDF

 

To download more books go to the next page.

Friends, if you enjoyed this post, then please do share it on Facebook! Now you can follow us on Facebook! 

 

agriculture current affairs 2017-18 pdf download,agriculture current affairs 2017 pdf download,agriculture general knowledge questions and answers pdf in hindi,agriculture current affairs 2016 pdf in hindi,agriculture gk for bank exam,general agriculture notes pdf,agriculture gk in hindi app,agriculture supervisor notes in hindi pdf,agriculture gk for bank exam in hindi,agriculture competitive exam questions and answers,agriculture question bank with answers download,agriculture gk app,agriculture question for bank exam,agriculture gk in hindi,agriculture current affairs 2016 pdf,agriculture quiz pdf

agriculture study material in hindi pdf,agriculture books in hindi pdf free download,agriculture notes in hindi pdf download,agriculture supervisor notes in hindi pdf,agriculture question in hindi pdf,agriculture objective questions in hindi pdf,bsc agriculture books in hindi,agriculture study material for upsc,

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #21

agriculture competitive exam questions and answers, agriculture current affairs 2016 pdf, general agriculture objective questions ebook, agriculture gk app, agriculture question bank with answers download, agriculture question and answer 2013, agriculture mcq with answers pdf, agriculture questions for students,GK Questions on Agriculture, Agriculture Current Affairs Today, Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams,

Hello readers,

 Agriculture Gk in hindi If you are doing preparation for HSSC, SSC Exams, come to us regularly. Agriculture Gk in hindi for HSSC exams like SSC CGL, SSC CHSL haryana police, gram sachiv, clerk, canal patwari, HPSC. haryana general knowledge and current affairs .  haryana Samanyagyan

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #21

401. ● भारत में सबसे अधिक वन किस राज्य में हैं— मध्य प्रदेश
402. ● भारतीय वन सर्वेक्षण विभाग की स्थापना कब की गई—1981 ई.
403. ● भारत में किस प्रकार के वन सर्वाधिक पाये जाते हैं— उष्णार्द पतझड़ वन
404. ● भारत में चन्दन की लकड़ी के वन सबसे अधिक कहाँ पाये जाते हैं— कर्नाटक
405. ● ‘साइलेन्ट वेली’ क्यो प्रसिद्ध है— केरल में
406. ● फूलों की घाटी कहाँ स्थित है— उत्तराखंड में
407. ● कौन-सा राज्य शहतूत रेशम उत्पादित करता है— कर्नाटक

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #20

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #22

408. ● भारत में सबसे महत्वपूर्ण व्यावसायिक वन कौन-से हैं— उष्ण कटिबंधीर्य अर्द्ध सदाबहार वन
409. ● भारत में उष्ण कटिबंधीय और शीतोष्ण कटिबंधीय वनों का प्रतिशत कितना है— 93% व 7%
410. ● भारत में सबसे प्रमुख वनस्पति कौन-सी है— पतझड़ वन
411. ● उष्ण कटिबंधीय सदाबहार वन कहाँ पाये जाते हैं—प्रायद्वीपीय पठार पर
412. ● भारत वन रिपोर्ट 2011 के अनुसार भारत में विश्व के वनों का कितने % है— 3%
413. ● भारत के किस राज्य में सबसे कम वन पाए जाते हैं—हरियाणा
414. ● भारत के पश्चिमी घाट पर किस प्रकार की वनस्पति पायी जाती है— सदाहरित
415. ● दलदली एवं ज्वर भाटा वाले क्षेत्रों में पाए जाने वाले वनों को क्या कहा जाता है— मैंग्रोव वन
416. ● वनों की दृष्टि से भारत के शीर्ष तीन राज्यों का अवरोही क्रम क्या है— मध्य प्रदेश-अरुणाचल प्रदेश-छत्तीसगढ़
417. ● कोन-सा वृक्ष सदाबहार वृक्षों की श्रेणी में नहीं आता है—महोगनी
418. ● कितनी ऊँचाई के बाद हिमाचल पर वनस्पति नहीं उगती है—6000 मीटर की ऊँचाई के बाद
419. ● गंगा-ब्रह्मपुत्र के डेल्टाई क्षेत्रों में किस वृक्ष की अधिकता के कारण इसे ‘सुंदरवन’ कहा जाता है— सुदंरी
420. ● भारत में जैवविधिता के ताप स्थल कौन-से हैं— पूर्वी हिमालय एवं पश्चिमी घाट

 

Thank you for reading the  Agriculture gk  questions answers for SSC, BANK, HSSC exams.

(All Haryana Distt Gk In Hindi)– ( Haryana Gk Distt Wise)

Charkhi Dadri  │  │Faridabad │ │Rewari │  │Mahendragarh   │  │Gurgaon/ Gurugram  │  │Palwal  │  │Rohtak │  │Bhiwani  │  │Ambala    │  │Kaithal   │   │Panchkula  │   │Karnal    │  │YamunaNagar    │  │Sonipat     │  │Panipat    │  │Fatehabad  │    │Jind  │    │Hisar   │    │Sirsa     │  │Kurukshetra  │ 

Haryana Gk for HSSC

Haryana GK 1500 QUestions.

India Gk in hindi 10000+ Questions

Science gk in hindi 3000+ Questions

Computer gk 3000+Questions

Agriculture gk in hindi

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #25

agriculture competitive exam questions and answers, agriculture current affairs 2016 pdf, general agriculture objective questions ebook, agriculture gk app, agriculture question bank with answers download, agriculture question and answer 2013, agriculture mcq with answers pdf, agriculture questions for students,GK Questions on Agriculture, Agriculture Current Affairs Today, Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams,

Hello readers,

 Agriculture Gk in hindi If you are doing preparation for HSSC, SSC Exams, come to us regularly. Agriculture Gk in hindi for HSSC exams like SSC CGL, SSC CHSL haryana police, gram sachiv, clerk, canal patwari, HPSC. haryana general knowledge and current affairs .  haryana Samanyagyan

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #25

 

481. . देश में कुल कृषि योग्य भूमि के कितने प्रतिशत भाग पर गेहूं की खेती की जाती है ?
►- 15 प्रतिशत
482. . हरित क्रांति का सबसे अधिक प्रभाव किस फसल पर पड़ा ?
►- चावल और गेहूं ।
483. . भारत में हरित क्रांति लाने का श्रेय किन्हें जाता है ?
►- डॉ. एम एस स्वामीनाथन
484. . भारत में हरित क्रांति की शुरुआत कब हुई थी ?
►- 1967-1968 ई. ।
485. . तिलहन प्रौद्योगिकी मिशन की स्थापना कब हुई ?
►- 1986 ई.
486. . भारत यूरिया के मामले में कितना आत्मनिर्भर है ?
►- 100 प्रतिशत
487. . किस उर्वरक का भारत पूरी तरह आयात करता है ?
►- पोटाशियम

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #24

Agriculture Gk in hindi for all competitive Exams series #26

488. . केसर का एकमात्र उत्पादक राज्य कौन है ?
►- जम्मू-कश्मीर
489. . भारत में सबसे अधिक रेशम कहां पैदा होता है ?
►- कर्नाटक
490. . प्राकृतिक रबड़ में भारत का कौन-सा अव्वल है ?
►- केरल (विश्व में चौथा स्थान)
491. . नासिक किसकी खेती के लिए प्रसिद्ध है ?
►- अंगूर
492. . काफी के उत्पादन के लिए भारत में कौन-सी जगह प्रसिद्ध है ?
►- कुर्ग (नीलगिरी की पहाड़ी)
493. . राष्ट्रीय रसदार फल अनुसंधान केंद्र कहां स्थितहै ?
►- नागपुर
494. . सबसे अधिक तंबाकू उत्पादित करने वाले राज्य कौन-से हैं ?
►- आंध्रप्रदेश और तमिलनाडु
495. . विश्व में किसके उत्पादन में भारत का स्थान पहलाहै ?
►- आम, चीकू, खट्टा नींबू, केला, नारियल, काली मिर्च, अदरक, हल्दी ।
496. . सब्जियों और फलों के उत्पादने में विश्व में भारत का कौन-सा स्थान है ?
►- भारत (पहला स्थान चीन का है।)
497. . विश्व में चावल के उत्पादन में चीन के बाद किस देश का स्थान है ?
►- भारत

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #24

Agriculture Gk in hindi for all competitive Exams series #26

Thank you for reading the  Agriculture gk  questions answers for SSC, BANK, HSSC exams.

(All Haryana Distt Gk In Hindi)– ( Haryana Gk Distt Wise)

Charkhi Dadri  │  │Faridabad │ │Rewari │  │Mahendragarh   │  │Gurgaon/ Gurugram  │  │Palwal  │  │Rohtak │  │Bhiwani  │  │Ambala    │  │Kaithal   │   │Panchkula  │   │Karnal    │  │YamunaNagar    │  │Sonipat     │  │Panipat    │  │Fatehabad  │    │Jind  │    │Hisar   │    │Sirsa     │  │Kurukshetra  │ 

Haryana Gk for HSSC

Haryana GK 1500 QUestions.

India Gk in hindi 10000+ Questions

Science gk in hindi 3000+ Questions

Computer gk 3000+Questions

Agriculture gk in hindi

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #24

agriculture competitive exam questions and answers, agriculture current affairs 2016 pdf, general agriculture objective questions ebook, agriculture gk app, agriculture question bank with answers download, agriculture question and answer 2013, agriculture mcq with answers pdf, agriculture questions for students,GK Questions on Agriculture, Agriculture Current Affairs Today, Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams,

Hello readers,

 Agriculture Gk in hindi If you are doing preparation for HSSC, SSC Exams, come to us regularly. Agriculture Gk in hindi for HSSC exams like SSC CGL, SSC CHSL haryana police, gram sachiv, clerk, canal patwari, HPSC. haryana general knowledge and current affairs .  haryana Samanyagyan

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #24

 

461. ● जमीन पर फैलने वाली सब्जियों की व्यापारिक कृषि क्या कहलाती है— ओलेरी कल्चर

462. ● विषुवतीय प्रदेशों में कपास की खोती क्यों नहीं की जाती है—अधिक वर्षा के कारण

463. ● कृषि किस प्रकार की मानवीय अर्थिक क्रिया है— प्राथमिक

464. ● विश्व में सबसे उत्तम स्वाद वाला कहवा किसे माना जाता है—मोचा कहवा

465. ● जैतून की कृषि किस देश में की जाती है— फ्रांस में

466. ● मिश्रित कृषि क्या है— एक ही फार्म पर फसल उत्पादन एवं पशुपालन

467. ● गहन कृषि किस क्षेत्र से संबंधित है— कनाडा से

468. ● ट्रक फार्मिंग का दूसरा नाम क्या है— विपणन बागवानी

469. ● मानव निर्मित धान्य है— ट्रिटीकल

470. ● ‘एशमाउनी’ किसकी प्राजाति है— कपास की

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #23

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #25

471. ● विश्व के लावा निर्मित मैदानों में कौन-सी फसल सर्वाधिक उगाई जाती है— कपास

472. . भारत के कुल क्षेत्रफल के कितने प्रतिशत भाग पर खेती होती है ?
►- 51 प्रतिशत
473. . भारत में कितने प्रतिशत भाग पर चारागाह है ?
►- 4 प्रतिशत
474. . वन से भरी भूमि का प्रतिशत कितना है ?
►- 21 प्रतिशत
475. . बंजर भूमि तथा बिना उपयोग की भूमि का प्रतिशत भारत में कितना है ?
►- 24 प्रतिशत
476. . नकदी फसल किसे कहते हैं ?
►- वह फसल जो व्यापार के उद्देश्य से किसानों द्वारा की जाती है । जैसे- कपास, गन्ना, तंबाकू, जूट इत्यादि ।
477. . रबी की फसल किसे कहते हैं ?
►- यह फसल अक्टूबर-नवंबर में बोई जाती है । मार्च-अप्रैल में काटी जाती है । जैसे- गेहूं, जौ, चना, मटर, सरसों, आलू, राई इत्यादि ।
478. . खरीफ की फसल किसे कहते हैं ?
►- यह फसल जून-जुलाई में बोई जाती है और नवंबर-दिसंबर में काट ली जाती है । जैसे- धान, गन्ना, तिलहन,कपास, मक्का, तिल, ज्वार, बाजरा इत्यादि ।
479. . जायद फसल का क्या अर्थ है ?
►- यह मई-जून में बोई जाती है और जुलाई-अगस्त में काट ली जाती है । जैसे- राई, उड़द, मूंग, तरबूज, खरबूजा, ककड़ी, खीरा इत्यादि ।
480. . झूम खेती क्या है ?
►- इसमें जंगलों को काटकर भूमि साफ की जाती है । इसके बाद इस भूमि पर खेती की जाती है । कुछ दिनों बाद भूमि की उर्वरता समाप्त हो जानने पर यह भूमि छोड़ दी जाती है । इस तरह की खेती पूर्वोत्तर के राज्यों में की जाती है ।

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #23

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #25

Thank you for reading the  Agriculture gk  questions answers for SSC, BANK, HSSC exams.

(All Haryana Distt Gk In Hindi)– ( Haryana Gk Distt Wise)

Charkhi Dadri  │  │Faridabad │ │Rewari │  │Mahendragarh   │  │Gurgaon/ Gurugram  │  │Palwal  │  │Rohtak │  │Bhiwani  │  │Ambala    │  │Kaithal   │   │Panchkula  │   │Karnal    │  │YamunaNagar    │  │Sonipat     │  │Panipat    │  │Fatehabad  │    │Jind  │    │Hisar   │    │Sirsa     │  │Kurukshetra  │ 

Haryana Gk for HSSC

Haryana GK 1500 QUestions.

India Gk in hindi 10000+ Questions

Science gk in hindi 3000+ Questions

Computer gk 3000+Questions

Agriculture gk in hindi

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #23

agriculture competitive exam questions and answers, agriculture current affairs 2016 pdf, general agriculture objective questions ebook, agriculture gk app, agriculture question bank with answers download, agriculture question and answer 2013, agriculture mcq with answers pdf, agriculture questions for students,GK Questions on Agriculture, Agriculture Current Affairs Today, Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams,

Hello readers,

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #23  Agriculture Gk in hindi If you are doing preparation for HSSC, SSC Exams, come to us regularly. Agriculture Gk in hindi for HSSC exams like SSC CGL, SSC CHSL haryana police, gram sachiv, clerk, canal patwari, HPSC. haryana general knowledge and current affairs .  haryana Samanyagyan

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #23

 

Haryana Gk for HSSC

Haryana GK 1500 QUestions.

India Gk in hindi 10000+ Questions

Science gk in hindi 3000+ Questions

Computer gk 3000+Questions

Agriculture gk in hindi

 

441. ● चाय निर्यात के क्षेत्र में कौन-सा देश सबसे आगे है— केन्या

442. ● विश्व प्रसिद्ध ‘उलंग किस्म की चाय’ किस देश में पैदा होती है—ताइवान

443. ● यारवा क्या है— पराग्वे में एक चाय सदृश झाड़ी

444. ● चाय की खेती के लिए उपयुक्त जलवायु कौन-सी है—मानसूनी

445. ● ‘फजेंडा’ क्या है— कहवा के बागान

446. ● कॉफी का उत्पादन विश्व में सबसे अधिक कौन-सा देश करता है— ब्राजील

447. ● विश्व में कपास की खेती सबसे अधिक कहाँ की जाती है—चीन में

448. ● विश्व में सबसे बड़ा रबड़ उत्पादक देश कौन-सा है— थाईलैंड

449. ● दुग्ध उत्पादन में विश्व का प्रथम देश कौन-सा है— भारत

450. ● ट्रांसजीनिक फसलों का सबसे बड़ा उत्पादक देश कौन-सा है—चीन

451. ● कौन-सी घाटी अफीम की खेती के लिए विख्यात है— इजमिर की घाटी

452. ● जूट उत्पादन में भारत का कौन-सा स्थान है— पहला

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #22

Agriculture Gk in Hindi For all Competitive Exams Series #24

453. ● महानगरों के बाहरी भाग में की जाने वाली फलों, फूलों तथा सब्जियों की गहन कृषि को क्या कहा जाता है— बाजर कृषि

454. ● सबसे अधिक सघन खेती कहाँ प्रचलित है— जापान में

455. ● विश्व में बागानी कृषि का विकास कहाँ हुआ है— दक्षिण पूर्वी एशिया में

456. ● स्थानांतरणशील कृषि का शुभारंभ कहाँ से हुआ— थाईलैंड से

Haryana Gk for HSSC

Haryana GK 1500 QUestions.

India Gk in hindi 10000+ Questions

Science gk in hindi 3000+ Questions

Computer gk 3000+Questions

Agriculture gk in hindi

457. ● भारत किसका सर्वश्रेष्ठ उत्पादक एवं उपभोक्ता है— चाय का

458. ● भारतीय कपास किस किस्म की होती है— छोटे रेशे वाली

459. ● विश्व में सबसे अधिक जूट उत्पादक क्षेत्र कौन-सा है— गंगा-ब्रह्मपुत्र का डेल्टाई मैदान

460. ● रेशम उत्पादन हेतु व्यापारिक स्तर पर रेशम के कीड़ों को पालना क्या कहलाता है— सेरीकच्लर

Haryana Gk for HSSC

Haryana GK 1500 QUestions.

India Gk in hindi 10000+ Questions

Science gk in hindi 3000+ Questions

Computer gk 3000+Questions

Agriculture gk in hindi

Thank you for reading the  Agriculture gk  questions answers for SSC, BANK, HSSC exams.

(All Haryana Distt Gk In Hindi)– ( Haryana Gk Distt Wise)

Charkhi Dadri  │  │Faridabad │ │Rewari │  │Mahendragarh   │  │Gurgaon/ Gurugram  │  │Palwal  │  │Rohtak │  │Bhiwani  │  │Ambala    │  │Kaithal   │   │Panchkula  │   │Karnal    │  │YamunaNagar    │  │Sonipat     │  │Panipat    │  │Fatehabad  │    │Jind  │    │Hisar   │    │Sirsa     │  │Kurukshetra  │