Ambala– Haryana GK in Hindi For HSSC Exam | Haryana District Wise GK | Hindigk50k
Ambala– Haryana GK in Hindi For HSSC Exam || Haryana District Wise GK

Ambala– Haryana GK in Hindi For HSSC Exam || Haryana District Wise GK

Ambala– Haryana GK in Hindi For HSSC Exam || Haryana District Wise GK

Ambala– Haryana District Wise GK in Hindi For HSSC Exam |Haryana GK in Hindi For HSSC Exam|  Hello Readers, (Gk of Haryana in Hindi) we are continuously providing you the haryana gk in hindi for haryana police exams, Haryana Police Gk question in Hindi, Complete Haryana gk, Ambala city Haryana gk in hindi. we have provided you a complete series of 3000 questions. If u would like to read our more useful contents,, click below  Haryana gk for haryana police

 

Haryana Gk for HSSC

Haryana GK 1500 QUestions.

India Gk in hindi 10000+ Questions

Science gk in hindi 3000+ Questions

Computer gk 3000+Questions

Agriculture gk in hindi

अंबाला हरियाणा का एक मुख्य एवं ऐतिहासिक शहर है , देश की राजधानी दिल्ली से यह 200 किलोमीटर दूर शेरशाह सूरी मार्ग 1 पर स्थित है | यह पंजाब और हरियाणा की सीमा पर स्थित है | अंबाला में एक छावनी है जो देश के प्रमुख सैन्य आगार है | पर्यटन के क्षेत्र में भी अंबाला का बहुत महत्वपूर्ण योगदान है | इस जिले के दक्षिण में ज़िला कुरुक्षेत्र है और पूर्व में औद्योगिक नगर यमुनानगर है और पश्चिम में पंजाब का पटियाला स्थित है। उत्तर में अरावली की पहाड़ियां और पंचकूला जिला स्थित है। यह जिला राज्य तथा देश की राजधानी के राष्ट्रीय राजमार्ग 1 से जुड़ा हुआ है।

क्षेत्रफल 1574 वर्ग किलो मीटर
स्थापना 1 नवंबर 1966
घनत्व 772 वर्ग किलो मीटर
जनसंख्या 1128350 ( 2011 की जनगणना के अनुसार)
लिंग अनुपात 1000-885
विकास दर 11.23%
साक्षारता 81.75%
प्रमुख बोली जाने वाली भाषाए पंजाबी और हिन्दी
तहसीले अंबाला, बरारा, नारायणगढ़
लोकसभा क्षेत्र अंबाला
विधानसभा क्षेत्र अंबाला केंट, अंबाला शहर, मुलाना-एएसी , नारायणगढ़

अम्बाला की स्तिथि – हरियाणा के उत्तर में स्थित है यह भारत की राजधानी दिल्ली से दो सौ किलो मीटर दूरी पर स्थित है
अम्बाला की स्थापना – 1 नवम्बर 1966 (अम्बाला की स्थापना 14 वीं शताब्दी में अम्बा नामक राजपूत ने की थी)
क्षेत्रफल – 1574 वर्ग कि.मी
उपमण्डल – अम्बाला , नारायणगढ़ ,बराड़ा
तहसील – अम्बाला, नारायणगढ़ व बराड़ा
उपतहसील – अंबाला , अंबाला छावनी, मुलाना, शाहजादपुर, साहा
खण्ड – अम्बाला , अम्बाला 2 ,बराड़ा, नारायणगढ़, शाहजादपुर, साहा
मुख्यालय – अम्बाला
जनसंख्या – 1,128,350
पुरुष महिला अनुपात – 885
साक्षरता दर – 82%
जनसंख्या घनत्व – 720 / किमी 2
विकास – 11.23%
एसटीडी कोड – 0171
नदी – मारकंडा, डांगरी और घग्घर
डिग्री कॉलेजों की संख्या – 15
गवर्नमेंट पॉलिटेक्निक – 4
इंजीनियरिंग कॉलेज – 3
मेडिकल कॉलेज – 4
अंबाला का निर्माण 1 नवंबर 1966 को हुआ था
हरियाणा में 1857 की क्रांति की शुरुआत अंबाला कैंट से 10 मई 1857 को हुई थी
अंबाला में 1857 की क्रांति का नेता मोहन सिंह और माधोपुर था
महात्मा गांधी जी 8 मार्च 1980 को अंबाला आए थे
अंबाला का धीन गांव कुमारी सैलजा ने गोद लिया हुआ है
अंबाला के पड़ोसी राज्य पंजाब और हिमाचल प्रदेश है
साहा फूड पार्क अंबाला में स्थित है
पक्की सड़कों का सर्वाधिक घनत्व अंबाला में है
अंबाला के प्रमुख गुरुद्वारे मंजी साहिब और सूरजकुंड है
अंबाला में मुख्य सेना की छावनी है

इतिहास – History Of Ambala Haryana 

अंबाला की स्थापना 14 वी शताब्दी में हुई थी, यह माना जाता है की इसकी स्थापना अम्बा नमक राजपूत ने की थी | अंबाला के नाम और इतिहास को लेकर कई बाते प्रचलित है जो इस प्रकार से है –

  1. कुछ लोगो की धारणा है की अंबाला का नाम “अम्बा भवानी” के नाम पर रखा गया है, अम्बा भवानी का मंदिर भी यहा स्थित है |
  2. अन्य धारणाओ के अनुसार यह भी माना गया है की इस नगर में आम की पैदावार बहुत होती थी इसी लिए इसे अम्बावाला कहा जाता था, जो बाद में अंबाला बन गया |

मध्यकल के दौरान आर्यों ने अंबाला को स्थायी निवास बनाया था, सरूढ़ाना स्थान जो की अंबाला की निकटवरती है देश की राजधानी रहा है | बादशाह अकबर के शासन-काल में अंबाला, दिल्ली सुबे की सरहिंद सरकार का एक छोटा सा परगना हुआ करता था। नगर अंबाला एक रियासति मुख्यालय था। ईस रियासत की स्थापना संगतसिंह ने सन 1763 में की थी।

सन 1842 में, अंबाला को शिमला के अधीन किया गया था। सन 1843 में करनाल से यहाँ  छावनी लाई गई। जनवरी 1860 में वायसराय केनिंग ने यहां पर दरबार लगाया,  तभी से यहां डाक सेवा की सुविधा शुरू हुई थी। दिल्ली और ग्रीष्मकालीन राजधानी शिमला के रास्ते होने के कारण सन  1880 में अंबाला को रेलवे लाइन से जोड़ा गया था।

सन 1847 में अंग्रेजों के शासनकाल में अंबाला का जिले के रूप में का गठन हुआ था, और इस समय इसकी 6 तहसीलें क्रमश: अंबाला, जगाधरी, रोपड़, खरड, नारायणगढ़ और नालागढ़ बनाई गई थी।
नालागढ तहसील का हिमाचल प्रदेश में विलय कर दिया गया। अंबाला छावनी में तैनात हिंदुस्तानी सैनिकों ने 10 मई 1857 को विद्रोह का झंडा बुलंद कर दिया था।

सन 1959 में पंजाब प्रशासन के द्वारा बनाए गए जिले एवं मंडल का मुख्यालय बनने के कारण अंबाला प्रसिद्ध हो गया। 1 नवंबर 1989 को अंबाला जिले से जगाधरी उप-मंडल को अलग कर दिया गया।

शिक्षा –

अंबाला एक शिक्षित शहर है , अंबाला में साक्षारता दर 81.75% है | अंबाला में बहुत से प्रमुख शिक्षण संस्थान है |

अम्‍बाला छावनी में एस डी कॉलेज, आर्य कन्‍या महाविद्यालय, गांधी मैमोरियल कॉलेज तथा राजकीय महाविद्यालय स्थित हैं। एस डी कॉलेज में कार्यालय प्रबंधन के अध्‍यापन की व्‍यवस्‍था बी ए, बी कॉम तथा डिप्‍लोमा स्‍तर पर उपलब्‍ध है। इस विषय के अध्‍यापन की सुविधा मात्र एस डी कॉलेज, अम्‍बाला छावनी में ही है। इस का पूरा नाम सनातन धर्म कॉलेज हैं।

संस्कृत के गहन अध्ययन के लिये अम्‍बाला छावनी में श्री दीवान कृष्ण किशोर सनातन धर्म आदर्श संस्कृत महाविद्यालय भी विद्यमान है।

अम्‍बाला शहर में एम डी एस डी गर्ल्‍ज कॉलेज, डी ए वी कॉलेज तथा आत्‍मा नन्‍द जैन कॉलेज स्थित हैं।

अम्बाला शहर में श्री आत्मानन्द जैन सीनियर सेकेन्डरी स्कूल, श्री आत्मानन्द जैन सीनियर मॉडल स्कूल, श्री आत्मानन्द जैन विजय वल्लभ स्कूल, गगा राम् सनातन धर्म स्कूल, एन एन एम डी स्कूल, डी ए वी पब्लिक स्कूल, पी के आर जैन स्कूल, चमन वाटिका, आर्य समाज् सीनियर सेकेन्डरी स्कूल, स्प्रिन्ग्फ़ील्ड स्कूल और भी कई स्कूल हैं। अम्बाला शहर में दो राजकीय बहुतकनीकि सन्सथान है। अम्बाला से २० मील दूर मुलाना में एम एम विश्वविधालय है। जहा विश्व स्तर की शिक्षा प्रदान की जाती है।

उद्योग और व्यापार –
अंबाला एक महत्त्वपूर्ण औद्योगिक शहर है। मिक्सी उद्योग और वैज्ञानिक उपकरणों के बल पर भारत ही नहीं बल्कि विश्व स्तर पर अंबाला का एक विशेष स्थान आज भी कायम है। वैज्ञानिक उपकरणों, सिलाई मशीनों, मिश्रण यंत्रों (मिक्सर) और मशीनी औज़रों के निर्माण तथा कपास की ओटाई, आटा मिलों व हथकरघा उद्योग की दृष्टि से अंबाला छावनी व शहर, दोनों उल्लेखनीय हैं। एक महत्त्वपूर्ण कृषि मंडी होने के साथ अंबाला में एक सरकारी धातु कार्यशाला भी है।

अंबाला मिक्सी ग्राइंडर, वैज्ञानिक उपकरण और इंजीनियरिंग संबंधी उपकरणों का बड़े पैमाने पर निर्माण के लिए एक औद्योगिक नगर के रूप में भी जाना जाता है।

यातायात और परिवहन –

अंबाला शहर सड़क और रेलमार्ग द्वारा अमृतसर और दिल्ली से जुड़ा हुआ है। शहर से संलग्न अंबाला छावनी में रेलों के एक बड़े जंक्शन के साथ एक हवाई अड्डा भी है। इसके साथ ही यह भारत की सबसे बड़ी छावनियों में से एक है।

कृषि और खनिज प्रमुख नदियां –

अंबाला में और इसके आस-पास के इलाको में मुख्य रूप से आमों की खेती की जाती है, अंबाला के आम राष्ट्रीय व अंतराष्ट्रीय स्तर पर बहुत ही प्रसिद्ध है, इसके साथ साथ यहा चावल, गेंहू, फलो आदि की खूब पैदावार होती है ,

यहां की प्रमुख नदिया – तंगरी, मारकंडा, घग्घर है |

पर्यटन स्थल –

अंबाला हरियाणा में पर्यटन का महत्वपूर्ण स्थान है | अंबाला शहर के प्रसिद्ध मंदिरों में अंबिका देवी मंदिर का ऐतिहासिक महत्व है। मान्यता है कि द्वापर युग में कौरवों और पांडवों के समय अंबा, अंबिका और अंबालिका की याद में मां भवानी का यह मंदिर बनवाया गया था। इसके अलावा अंबाला अपने धार्मिक तीर्थस्थलों के लिए बहुत प्रसिद्ध है। इन स्थलों में मन्दिर, गुरुद्वारे, चर्च और दरगाह-मस्जिदें प्रमुख हैं।

अंबाला के प्रमुख मंदिर और गुरुद्वारे –

  • बादशाही बाग़ गुरुद्वारा
  • शीशगंज गुरुद्वारा
  • मंजी साहिब गुरुद्वारा
  • संगत साहिब गुरुद्वारा

सिक्ख गुरुओं गुरु गोविंद सिंह, गुरु तेगबहादुर सिंह और गुरु हरगोविंद सिंह का भी इन गुरुद्वारों से संबंध रहा है।

गुरुद्वारों के अलावा यहाँ का लखीशाह, तैक्वाल शाह और सेंट पॉल चर्च भी पर्यटकों को बहुत पसंद आते हैं। इस चर्च का निर्माण जनवरी 1857 मे हुआ था, जो भारत पाकिस्तान युद्ध के दौरान 1965 में नष्ट हो गया था। चर्च के पास ही एक क़ब्रिस्तान भी है।

अंबाला कैंट में स्थित पटेल पार्क और अंबाला शहर का सिटी पार्क भी पर्यटन का महत्वपूर्ण स्थल है, इन बगीचों के पास बुरिया में रंगमहल भी है। यह महल बहुत ख़ूबसूरत है। इस महल की आर्क, स्तम्भ और नक़्क़ाशी पर्यटकों को बहुत पसंद आती है। इसका निर्माण शाहजहाँ के शासनकाल में किया गया था।

haryana gk district wise , haryana gk , haryana gk in hindi , haryana gk in hindi , haryana gk 2018 , haryana gk 2017 , haryana gk , books of haryana gk , haryana district gk , haryana exam gk in hindi , haryana gk in english , haryana gk in hindi , haryana gk pdf in hindi , haryana gk and current affairs in hindi , haryana gk and current affairs pdf , haryana gk blog , haryana gk blogspot ,haryana gk book download , haryana gk books in hindi , haryana gk current affairs in hindi pdf , haryana gk district wise in hindi , haryana gk district wise pdf , haryana gk for gram sachiv , haryana gk for haryana police , haryana gk for hssc , haryana gk for hssc exam , haryana gk for hssc exam in hindi , haryana gk history , haryana gk hssc , haryana gk latest question in hindi , haryana gk question , haryana gk most important questions , haryana gk notes in english , haryana gk notes in hindi , haryana gk online class , haryana gk question , haryana gk quiz in hindi , haryana b.ed , haryana d.ed online form , haryana gk with map , haryana gk with tricks

Comments

comments