Alwar District अलवर जिला Rajasthan Gk | Hindigk50k

Alwar District अलवर जिला Rajasthan Gk

Alwar District अलवर जिला Rajasthan Gk

Alwar District अलवर जिला Rajasthan Gk 

 Rajasthan Districts wise General Knowledge

1. अजमेर  6. भरतपुर  11. चित्तौड़गढ़  16. हनुमानगढ़  21. झुंझुनूं  26. पाली  31. सिरोही 
2. अलवर  7. भीलवाड़ा 12. दौसा  17. जयपुर  22. जोधपुर  27. प्रतापगढ़  32. टोंक
3. बांसवाड़ा  8. बीकानेर  13. धौलपुर  18. जैसलमेर  23. करौली  28. राजसमंद  33. उदयपुर 
4. बारां  9. बूंदी  14. डूंगरपुर  19. जालोर  24. कोटा  29. सवाई माधोपुर 
5. बाड़मेर  10. चुरू  15. गंगानगर  20. झालावाड़  25. नागौर  30. सीकर 

अलवर 
                                                      ‘राजस्थान का सिंह द्वार‘ नाम से प्रसिद्ध अलवर की स्थापना कच्छवाहा वंस के रावराजा प्रताप सिंह द्वारा की गई|

प्रसासनिक इकाईयां :

उपखंड -14
तहसील -16
पंचायत समिति – 14

प्रमुख मेले एव त्यौहार :
भ्रतहरी, बिलारी माता, चन्द्र प्रभु मेला
मेला :-
*नारायणी माता – अलवर (राजगढ़ तहसील) में बरवा डूंगरी की तहलटी में सघन व्रक्षो से घिरा यह सती स्थान सभी सम्प्रदायो एव वर्गो का आराध्य स्थल हैं। प्रतिवर्ष वैसाख शुक्ला एका दशमी को नारायणी माता भरता हैं
* चन्द्र प्रभु का जेन मन्दिर :– यहाँ 8 वे जेन तीर्थ कर भगवान चन्द्रप्रभु का विशाल मन्दिर हैं। यहाँ देहरा नामक स्थल पर चन्द्रप्रभु की मूर्ति हुई थी
* नोचोकिया मंदिर यह अति प्राचीन हैं , जिसका निर्माण सवत 803 में हुआ । इस मंदिर की श्री मल्लिनाथ की प्रतिमा की विशेषता हैं कि इस पर आगे के निचले हिस्से पर कुछ अंकित होने की बजाय इसकी पीठ पर प्रशस्ति अंकित हैं। ऊपर वाला मंदिर के नाम से जेन तीर्थकर शांतिनाथ भगवान का विशाल मन्दिर भी यहाँ हैं
  दर्शनीय स्थल:-
मुन्सी महारानी की छतरी -80 खम्बो की, अलवर राजप्रसाद के पिछवाडे सागर के किनारे महाराज बख्तावर सिंह और मुसी महारानी की स्म्रति में बनी इस दो मंजिली छतरी का निर्माण अलवर महाराजा विनय सिंह ने करवाया था
* विजय मंदिर पेलेस : 1918 में महाराज जयसिंह द्वारा निर्मित
तिजारा :– यहाँ अल्लाऊद्दीन का मकबरा और चन्द्र प्रभुजी का प्रसिद्ध जेन मंदिर स्थित हैं।
* डिकर – यहाँ आदिमानव के बनाए हुवे शेल चित्र मिले हैं
पुर्जनविहार (शिमला) :- इसे कम्पनी गार्डन भी कहते हैं।
होप सर्कस (केलाश बुर्ज) :- 1939-40 ई. में तत्कालीन  वायसराय लोर्ड लिंनलिथिगो के अलवर आगमन पर उनकी पुत्री मिस होप के नाम पर बनाया गया हैं।
* सिलिसेढ़ महल :- महाराजा विनय सिंह द्वारा अपनी रानी शिला के लीये प्रसिद्ध झील के किनारे निर्मित भव्य महल
* पंडोपोल :- अज्ञातवास के दोरान पांड्वो को कोरवो की सेना ने आ घेरा था तब महाबली भीम ने पहाड़ में गदा मारकर अपना रास्ता निकाला था। तभी से यह स्थान पंडुपोल के नाम से प्रसिद्ध हैं।
* सरिस्का :-1955 में स्थापित राजस्थान का दूसरा टाईगर प्रोजेक्ट (बाघ परियोजना)। यहाँ नोग्जा का जेन मंदिर भी हैं
* विजहसागर बांध :– इसका निर्माण सन 1903 में महाराज जय सिंह ने करवाया था।
भर्त्रहरी :– नाथो का प्रसिद्ध स्थल हैं
*बाला दुर्ग व काकनबाड़ी किला :-अलवर

Rajasthan Gk In Hindi Series 105

Rajasthan Gk In Hindi Series 104

Rajasthan Gk In Hindi Series 103

Rajasthan Gk In Hindi Series 102

Alwar District अलवर जिला Rajasthan Gk

 

Comments

comments